HISTORY

अगर सुभाष चंद्र बोस देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो कैसे काम करती उनकी सरकार?

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जीवन और उनकी मृत्यु का रहस्य आज भी लोगों को सोचने पर मजबूर कर देता है। जन्म के 125 साल बाद भी उनकी विरासत बंगाल की राजनीति, संस्कृति, समाज और साहित्य को प्रभावित करती रही है। कई लोगों का मानना है कि अगर नेताजी अचानक गायब नहीं होते तो वो …

अगर सुभाष चंद्र बोस देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो कैसे काम करती उनकी सरकार? Read More »

जाने उस कविता के बारे में जिसे हमेशा अटल जी दोहराते थे…क्या हार में क्या जीत में

भारत के दसवें प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आज देहवासन के बाद पहला जन्मदिन है। उनके चाहने वाले अपने अपने तरह से उन्हें श्रद्धांजली दे रहे हैं। आपको बता दें, अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिन 25 दिसंबर को मनाया जाता है, साल 2018 की 16 अगस्त को उनका देहांत हो गया था।

संसद पर हमले के 19 साल

संसद हमला: जब आतंकवादियों के हाथ हमारी संसद तक पहुंच गए थे

आज ही के दिन भारत की संसद पर आतंकवादियों के समूह ने हमला कर दिया था। 13 दिसंबर 2001 के दिन भारतीय संसद गोलियों की आवाज़ से गूंज रही थी। इस हमले में 6 दिल्ली पुलिस के जवान समेत 10 लोगों ने जान गंवाई थी। 5 आतंकवादियों को मार गिराया गया था। संसद हमला: क्या …

संसद हमला: जब आतंकवादियों के हाथ हमारी संसद तक पहुंच गए थे Read More »

संसद भवन का इतिहास

संसद भवन: जानिए उस इमारत का इतिहास जहां दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र सांस लेता है

आज प्रधानमंत्री मोदी ने नई संसद की नींव रखी। मौजूदा संसद भवन का निर्माण सन 1921-27 की बीच हुआ था, इस हिसाब से इसे बने 93 साल हो चुके हैं। संसद भवन का डिजाइन उस दौर के मशहूर ब्रिटिश वास्तुविद एडविन लुटियन ने बनाया था। अंग्रेज़ों ने इसे बनाने में 83 लाख रुपए खर्च किए …

संसद भवन: जानिए उस इमारत का इतिहास जहां दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र सांस लेता है Read More »

Attack on Pearl Harbor

Attack on Pearl Harbor : वो ज़ख्म जिसे अमेरिका कभी भूल नहीं सकता

Attack on Pearl Harbor : आज जो अमेरिका पूरी दुनिया को आँख दिखाता है और खुद को सुपर पावर बताता है । किसी भी देश में जाकर हवाई हमला कर देता है, लेकिन उसी अमेरिका के इतिहास में एक दिन ऐसा भी आया था जब अमेरिका को जापान ने कभी न भूलने वाली कड़वी यादें …

Attack on Pearl Harbor : वो ज़ख्म जिसे अमेरिका कभी भूल नहीं सकता Read More »