Powered by

Advertisment
Home हिंदी

मध्यप्रदेश के गुना में शुरु होगा GAIL का ग्रीन हाईड्रोजन प्रोजेक्ट

GAIL गुना में भारत का सबसे बड़ा  PEM स्थापित करेगा, साल 2023 के अंत तक ग्रीन हाईड्रोजन का प्रडक्शन शुरु हो जाएगा।

By Pallav Jain
New Update
GAIL Green Hydrogen project in Guna Madhya Pradesh

यूनियन बजट 2023 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारत में ग्रीन हाईड्रोजन प्रोडक्शन बढ़ाने का लक्ष्य रखा है। इसी के तहत गेल इंडिया लिमिटेड गुना में भारत का सबसे बड़ा  प्रोटोन एक्सचेंज मेंब्रेन इलेक्ट्रोलाईज़र स्थापित करेगा, जिससे साल 2023 के अंत तक ग्रीन हाईड्रोजन का प्रडक्शन शुरु हो जाएगा।

ग्रीन हाईड्रोजन भविष्य का ईंधन है, यह एक ग्रीन फ्यूल है जिससे पर्यावरण को कम नुकसान होता है। भारत की सबसे बड़ी गैस ट्रांस्पोर्टिंग फर्म गेल को हर दिन 4.3 मीट्रिक टन ग्रीन हाइड्रोजन बनाने वाले पीईएम बेस्ड प्रोजेक्ट लगाने का कॉंट्रेक्ट दिया गया है। यह देश का सबसे बड़ा पीईएम इलेक्ट्रोलाईज़र होगा।

गुना के विजयपुर कॉम्प्लेक्स में यह प्लांट स्थापित किया जा रहा है। नवंबर 2023 तक यह प्रोजेक्ट तैयार हो जाएगा।
दुनिया की ऊर्जा की ज़रुरतों को पूरा करने के लिए हाईड्रोजन को एक बेहतर विकल्प माना जा रहा है, क्योंकि इससे पर्यावरण को भी नुकसान नहीं होता।

कैसे बनता है हाईड्रोजन फ्यूल?

हाईड्रोजन फ्यूल बनाने के तीन तरीके हैं, पहला कोल गैसिफिकेशन इसे ब्राऊन हाईड्रोजन कहा जाता है। दूसरा नैचुरल गैस में मौजूद मीथेन के ज़रिए जिसे ब्लू हाईड्रोजन कहा जाता है, और तीसरा इलेक्ट्रेलाईज़र के ज़रिए पानी को स्प्लिट करके, जिसे ग्रीन हाईड्रोजन कहा जाता है। ग्रीन हाईड्रोजन इन तीनों में सबसे ज्यादा स्वच्छ है और इससे ज़ीरो कार्बन एमिशन होता है। 

कितने ग्रीन हाईड्रोजन प्रोजेक्ट्स अब तक भारत में अनाउंस हुए हैं?

  • गेल इंडिया का ग्रीन हाईड्रोजन प्लांट मध्यप्रदेश के गुना में
  • इंडियन ऑईल कॉर्प का मथुरा, पानीपत और जोरहाट में
  • एनटीपीसी के तीन पायलट प्रोजेक्ट गुजरात के कवास, लेह और एमपी के विंध्याचल में शुरु होंगे।
  • ओएनजीसी ग्रीनको कंपनी के साथ मिलकर ग्रीन हाईड्रोजन प्लांट लगाने वाला है।
  • भारत पेट्रोलियम 5 MW ग्रीन हाईड्रोजन प्लांट ओडिशा मेंअडानी न्यू इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड
  • लारसन एंड टर्बो लिमिटेड ने AM Naik Heavy Engineering Complex हज़िरा गुजरात में लगाया है।
  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड विशाखापट्टनम में 370 टन सालाना कैपैसिटी वाला ग्रीन हाईड्रोजन प्लांट लगाने वाला है। 

Read More

Follow Ground Report for Climate Change and Under-Reported issues in India. Connect with us on FacebookTwitterKoo AppInstagramWhatsapp and YouTube. Write us on [email protected].