Delhi Meat Ban: नहीं है कोई ऑफिशियल ऑडर, चैनल पूछ रहे बताईये कितना नुकसान हो गया?

(Delhi Meat Ban) साउथ दिल्ली मुनिसिपल कॉर्पोरेशन के मेयर चाहते हैं कि नवरात्र के दौरान 2 से 11 अप्रैल तक दिल्ली में मीट की बिक्री पर बैन रहे। इसके लिए उन्होंने कमिश्नर से गुहार लगाई है। लेकिन इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक साउथ एमसीडी के अधिकारियों ने कहा है कि इस तरह की पाबंदी के लिए कमिश्नर ऑफिस से अप्रूवल लेना होता है, ताकि एक आधिकारिक ऑर्डर जारी हो सके। अभी तक ऐसा कोई ऑर्डर नहीं आया है। 

एक और सीनियर अधिकारी के मुताबिक ऐसे ऑर्डर तत्काल प्रभाव से लागू नहीं हो सकते, क्योंकि इसको लेकर कोई नियम और प्रावधान नहीं है। इस तरह के अचानक बैन के निर्देष से ट्रेडर्स का हरासमेंट ही होता है। 

दिल्ली के मेयर के पास यह शक्ति नहीं होती कि वो अपने दम पर बैन (Delhi Meat Ban) लगवा सके, इसके लिए उसे कमिश्नर के आदेश की ज़रुरत होती है। 

लेकिन हमारे न्यूज़ चैनल इस खबर को कुछ इस तरह चला रहे हैं जैसे दिल्ली में यह आदेश लागू ही हो गया है। न उनके पास कोई आदेश की कॉपी है, न कोई तथ्य। बस मेयर की मांग को आदेश बता कर चलाया जा रहा है और शहर का महौल खराब करने की कोशिश की जा रही है।

एनडीटीव के पत्रकार सौरभ शुक्ला को साउथ एमसीडी के मेयर ने कहा है कि वो हर हाल में ये आदेश लागू करवा कर रहेंगे और इसका सख्ती से पालन होगा। 

Also Read:  Sonal Mehrotra Kapoor of NDTV is now in Network 18

इसी बयान के हवाले से मेयर की मांग को आदेश बना कर जनता को दिखाया जा रहा है, और भ्रम की स्थिति पैदा की जा रही है। अगर न्यूज़पेपर्स की रिपोर्ट देखें तो वो साफ कहती हैं कि इस तरह का (Delhi Meat Ban) कोई आधिकारिक ऑर्डर नहीं है। 

साउथ दिल्ली मुनिसिपल कॉर्पोरेशन के मेयर मुकेश सुर्यन ने कमिश्नर को खत लिख मांग की है कि 2 अप्रैल से 11 अप्रैल तक नवरात्री का त्यौहार देश भर में मनाया जा रहा है। इस दौरान सभी श्रद्धालू शाकाहारी भोजन ही करते हैं। उनके पास कई शिकायतें आई हैं  जिसमें लोगों ने कहा है कि शहर में मीट पर बैन (Delhi Meat Ban) लगना चाहिए क्योंकि इससे उनकी धार्मिक भावना आहत होती है। ऐसे में दिल्ली में खासकर उनके क्षेत्र में मीट और शराब की दुकाने बंद की जानी चाहिए। 

साउथ दिल्ली के मेयर की मांग और नॉर्थ दिल्ली में खड़े होकर चैनल मीट वालों से सवाल पूछते हैं कि बताईए आपका कितना नुकसान हो गया? जबकि आज मंगलवार है, आज वैसे भी मीट की बिक्री कम होती है और ज्यादातर दुकानें बंद रहती हैं। 

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and Whatsapp and Subscribe to our YouTube channel. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com 

Also Read

Difference Between Halal And Jhatka Meat, Religious Angle To It Explained