Zomato : महिला कर्मचारियों को मिलेगी 10 दिन की पीरियड लीव

Zomato : महिला कर्मचारियों को मिलेगी 10 दिन की पीरियड लीव

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारतीय फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो (zomato) ने महिलाओं को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. कंपनी जोमैटो(zomato) ने शनिवार को बताया कि अब महिलाओं और ट्रांसजेंडर कर्मचारियों को एक साल में 10 दिन का पीरियड लीव देगा. कंपनी ने इस नियम को पीरियड पॉलिसी का नाम दिया है. कंपनी के इस फैसले की हर तरफ तारीफ हो रही है.

पीरियड लीव लेने के लिए महिलाएं पूरी तरह स्वतंत्र

जोमैटो(zomato) के सीईओ दीपेंदर गोयल ने शनिवार को ईमेल के जरिए अपने सभी कर्मचारियों को सूचना दी की – ‘पीरियड लीव के लिए अप्लाई करते हुए महिलाओं को किसी भी प्रकार की शर्म या कलंक के साथ जोड़ कर न देखें. इस दौरान कर्मचारी छुट्टी लेने के लिए एकदम स्वतंत्र है. महिलाओं को अपने साथियों को ईमेल और फ़ोन पर जानकारी देते हुए फ्री फील होना चाहिए की वे पीरियड लीव पर हैं.’

READ:  Rajnath Singh in Moscow, says this is a sign of our special friendship

अस्मिता बचाने को ‘महिला शक्ति की मिसाल’ का जवाब थीं वो दलित महिला

उन्होंने कहा कि जोमैटो(zomato) कंपनी समझती है कि महिला और पुरुष अलग-अलग बायोलॉजिकल रिएलिटी के साथ पैदा होते हैं. यह जीवन का एक हिस्सा है. यह सुनिश्चित करना हमारा काम है कि हम अपनी जरूरतों के लिए जगह बनाएं. साथ ही जोमैटो (zomato) में हम विश्वास, सच्चाई और स्वीकृति की संस्कृति को बढावा देना चाहते हैं.

भारत में यह बहस का मुद्दा रहा है

इंग्लैंड के शहर ब्रिस्टल में महिलाओं को पीरियड के दौरान ऑफिस से छुट्टी दी जाती है. इंग्लैंड के इस नियम को लेकर भारत में भी काफी बहस हुई थी. केरल के सबरीमाला मंदिर में मासिक धर्म के दौरान प्रवेश पर प्रतिबद्ध हटाने के समय से लेकर इस विषय पर चर्चा शुरू है. देश के अलग अलग हिस्सों से महिलाएं अपने अधिकारों के लिए आवाज उठा रही हैं. ऐसे में जोमैटो(zomato) कंपनी द्वारा यह कदम सराहनीय है. कंपनी ने कहा है कि भारत में लाखों महिलाओं और लड़कियों में आज भी मासिक धर्म के बारे में जागरूकता की कमी है. इसके कारण भेदभाव और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

READ:  इंडियन रेलवे ने Train Ticket Reservation Chart से जुड़ा ये बड़ा नियम बदल दिया

ये लेख स्वाति गौतम ने लिखा है. स्वाति ग्राउंड रिपोर्ट में शिक्षा, राजनीति व किसानो से जुड़े मुद्दों पर लिखती हैं.

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।