Home » Yuvraj Singh को पिता Yograj Singh के किस बयान के बाद मांगना पड़ी माफ़ी ?

Yuvraj Singh को पिता Yograj Singh के किस बयान के बाद मांगना पड़ी माफ़ी ?

Yuvraj Singh
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने अपने जन्मदिन पर अपने पिता योगराज सिंह (Yograj Singh) के बयान को लेकर माफी मांगी है। हाल ही में उनके पिता योगराज सिंह ने हिंदुओं को लेकर आपत्‍तिजनक बयान दिया था।

दरअसल किसान आन्दोलन पर उनके पिता ने योगराज सिंह के विवादित बयान दिया था जिससे युवराज बिल्कुल खुश नहीं है। अपने जन्मदिन पर युवराज ने भारत की जनता से अपने पिता के बयान के लिए मांगी माफी है।

योगराज सिंह ने हिंदुओं को कहा था ‘गद्दार’

किसान आंदोलन के समर्थन में पहुंचे युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह ने हिंदुओं को लेकर कहा था कि ‘ये हिंदू गद्दार हैं, सौ साल मुगलों की गुलामी की’। इस बयान के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया और योगराज का जमकर लिरोध शुरू हो गयाय़

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) के पिता योगराज सिंह (Yograj Singh) के हिंदुओं पर दिए गए इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया था और उनकी गिरफ्तारी की मांग की जा रही थी।

READ:  लखीमपुर: वीडियो में देखिए कैसे मंत्री की गाड़ी ने किसानों को कुचल कर मार डाला

योगराज सिंह ने मांगी माफी

अपने दिए इस बयान के बाद योगराज सिंह ने बाद में मांफी मांगी थी।  एक शो के दौरान उन्होंने माफी मांगी है और माना कि, कई बार मुंह से गलत बात निकल जाती है।

युवराज सिंह ने अपनी पोस्ट में लिखा है, ‘एक भारतीय होने के नाते मैं अपने पिता योगराज सिंह द्वारा दिए गए बयान से बेहद आहत और दुखी हूं। मैं यहां ये साफ करना चाहता हूं कि ये उनका खुद का बयान है। मेरी विचारधारा उस तरह की नहीं है।’

PUBG Mobile India: when will get APK download link? Here is new updates

युवराज ने लिखा, ‘लोग जन्मदिन पर अपनी इच्छा पूरी करते हैं। लेकिन मैं इस मैं इस बार जन्मदिन मनाने के बदले ये उम्मीद करता हूं कि सरकार और किसानों के बीच बातचीत के बाद ये आंदोलन खत्म हो। किसान हमारे देश की जीवन को चलाते हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि ऐसी कोई समस्या नहीं है जो शांतिपूर्ण बातचीत से सुलझाई न जा सके’।

READ:  Taliban update :क्या सच में अखुंदजादा को उतार दिया गया मौत के घाट, मुल्ला बरादर को भी बनाया गया बंधक?

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।