UP police is implicating innocent people by abusing cow slaughter law

उत्तर प्रदेश : इन पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर करने की तैयारी में योगी सरकार

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

योगी सरकार ने एक बड़ा फैसला करते हुए भ्रष्ट पुलिसवालों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की कार्रवाई शुरू कर दी है । डीजीपी मुख्यालय ने पुलिस की सभी इकाइयों के प्रमुखों, सभी आईजी रेंज और एडीजी जोन को ऐसे नाकारा पुलिसवालों की सूची भेजने के लिए पत्र लिखा है.

पत्र में 31 मार्च 2020 को 50 वर्ष की आयु पूरी कर चुके पुलिस कर्मियों की स्क्रीनिंग कराए जाने निर्देश दिए गए है। वहीं सिपाही से लेकर इंस्पेक्टर रैंक के पुलिसकर्मियों की होगी अनिवार्य सेवानिवृत्त देने के लिए स्क्रीनिंग।

उधर, योगी सरकार की इस बड़ी कार्रवाई के बाद यूपी पुलिस में भृष्ट पुलिस कर्मचारियों पर गाज गिरना तय माना जा रहा है। उन पुलिसवालों की छंटनी की जाएगी, जो 31 मार्च 2020 को 50 वर्ष की आयु पार कर चुके हैं।

ALSO READ:  उत्तर प्रदेश में हत्याओं का अंबार , 2 साल में 20 साधुओं की हत्या.. यह कैसा रामराज्य ?

IIT रिसर्च स्कॉलर ने हॉस्टल में की कथित आत्महत्या, परिजनों को 3 दिन बाद दी सूचना

गौरतलब है कि कुछ ही समय पहले खबर आई थी कि उत्तर प्रदेश सरकार 50 साल से अधिक आयु वाले कर्मचारियों के कामकाज की समीक्षा करने जा रही है। अपेक्षित प्रदर्शन नहीं करने वाले कर्मचारियों की अनिवार्य सेवानिवृत्ति होगी।

मुख्य सचिव आरके तिवारी की ओर से जारी आदेश के मुताबिक सभी विभागों के अपर मुख्य सचिवों और सचिवों से 50 की आयु पार कर चुके स्टाफ के कामकाज की समीक्षा करने को कहा गया है। ऐसे कर्मचारियों की 31 जुलाई तक सूची तैयार करने को भी कहा गया था।

ALSO READ:  6 साल पहले मर चुके 'बन्ने खान' भंग कर सकते थे शांति, यूपी पुलिस ने 107 और 116 के तहत मामला दर्ज कर भेजा नोटिस

Hike Fellowship : IIT मद्रास की PhD रिसर्च स्कॉलर ने लगाई फांसी!

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।