मुस्लिम नाम वाले इन 12 शहरों के नाम बदलने जा रही योगी सरकार , अलीगढ़ से शुरूआत

उत्तर प्रदेश में अपने पहले कार्यकाल में योगी सरकार ने कई ज़िलो के नाम बदले थे। वहीं सूबे की सत्ता दोबारा संभालने के बाद एक बार फिर शहरों के नाम बदलने की तैयारी शुरू हो गई है। मुस्लिमों के जुड़े नाम वाले शहरों को लगातार हिंदू संगठन बदलने की मांग करते रहे हैं। इस बार अलीगढ़,फिरोज़ाबाद सहित 12 शहरों के नाम बदलने का योगी सरकार ने काम शुरू कर दिया है।

ये मुस्लिम नाम वाले शहर हैं और इसमें लगभग 12 ज़िले शामिल हैं, लेकिन फिलहाल शुरुआत 6 जिलों से की जानी है। लिस्ट में पहला नाम- अलीगढ़ और उसके बाद फर्रुखाबाद, सुल्तानपुर, बदायूं, फिरोजाबाद और शाहजहांपुर हैं।

योगी के पिछले कार्यकाल में मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम पं. दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर किया गया, तो इलाहाबाद प्रयागराज और फैजाबाद के नाम बदलकर अयोध्या कर दिया गया।

इन 6 जिलों ने नाम बदलने के लिए सरकार को भेजे प्रस्ताव

अलीगढ़– योगी आदित्यनाथ की सरकार के निशाने पर तब से है जब वे सरकार में आए थे। 2015 में विश्व हिंदू परिषद ने इस मांग को उठाना शुरू किया था। यहां तक की BJP और समर्थक संगठन अलीगढ़ को हरिगढ़ कहना भी शुरू कर चुके हैं।

फर्रुखाबाद- जिले से लगातार दूसरी बार मुकेश राजपूत सांसद हैं। हाल ही में उन्होंने फर्रुखाबाद का नाम बदलकर पांचाल नगर करने की मांग की है।

सुल्तानपुर– यहां की लंभुआ सीट से BJP के विधायक रहे देवमणि द्विवेदी भी जिले का नाम बदलकर ‘कुशभवनपुर’ करने का प्रस्ताव सरकार को भेज चुके हैं।

गोरखनाथ मंदिर में किसने और क्यों किया हमला, जानें पूरा मामला

बदायूं– इस जिले की तरफ से अभी कोई प्रस्ताव नहीं आया है, लेकिन योगी की लिस्ट में इस जिले का नाम है। उन्होंने 9 नवंबर 2021 के दिन बदायूं के एक कार्यक्रम में इसका इशारा भी किया था।

फिरोज़ाबाद– यहां की जिला पंचायत ने भी 2 अगस्त 2021 में बैठक कर जिले का नया नाम चंद्र नगर रखने का प्रस्ताव पारित किया था। यहां प्रस्ताव भी सरकार के पास जा चुका है।

शाहजहांपुर– यहां से विधायक रहे मानवेंद्र सिंह भी सरकार के पास प्रस्ताव भेज चुके हैं। उन्होंने शाहजहांपुर का नाम महाराणा प्रताप के करीबी भामाशाह और एक और नाम शाजी के नाम पर ‘शाजीपुर’ रखने का सुझाव दिया है।

इन जिलों में भी तैयार हो रहे नाम बदलने के प्रस्ताव

मैनपुरी– 16 अगस्त को ही मैनपुरी में जिला पंचायत स्तर की एक बैठक के बाद नया नाम मयान पुरी करने की मांग की गई।

संभल– जिले का नाम कल्कि नगर या फिर पृथ्वीराज नगर करने की मांग उठ रही है।

देवबंद– ‌BJP विधायक ब्रजेश सिंह रावत ने भी देवबंद का नाम देववृंदपुर करने की मांग की है।

गाजीपुर– यहां से दिग्गज नेता कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय एक साल पहले ही गाजीपुर का नाम बदलकर गढ़ीपुरी करने की मांग कर रही हैं।

कानपुर- कानपुर देहात के रसूलाबाद और सिकंदराबाद और अकबरपुर रनियां में नामों को लेकर प्रस्ताव बनाने को लेकर प्रशासन को निर्देश मिले हैं।

आगरा– अंबेडकर यूनिवर्सिटी में आगरा की जगह अग्रवन जिले का नए नाम के पक्ष में साक्ष्य जुटाने का काम चल रहा है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and Whatsapp and Subscribe to our YouTube channel. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com