Home » HOME » World Postal Day 2021: लोग समझें डाक का महत्व, इसलिए मनाया जाता है ‘डाक दिवस’

World Postal Day 2021: लोग समझें डाक का महत्व, इसलिए मनाया जाता है ‘डाक दिवस’

Sharing is Important

World Postal Day 2021: डाकिया डाक लाया… मतलब कुछ दिल को छू लेने वाली बात ले आया। ऐसे ही दिल को छू लेने वाली खबर हम भी आपको दे रहे हैं। वह यह कि आज विश्व डाक दिवस (world postal day 2021) है, जो हर साल 9 अक्टूबर को मनाया जाता है। हालांकि मोबाइल, इंटरनेट आने की वजह से इसका इस्तेमाल कम हो गया है। लेकिन आज भी डाक सेवाओं का उपयोग किया जाता है और यह संदेश पहुंचाने का सबसे आसान, सरल और विश्वसनीय तरीका है। भले ही मोबाइल और इंटरनेट की वजह से डाक सेवा कम हो गई हो, लेकिन आज भी इसका अपना क्रेज है। आज भी लोग डाक के माध्यम से भेजी गई चीजों को, खतों को पसंद करते हैं।

डाक दिवस का ​इतिहास
अगर हम इसके इतिहास की बात करें तो इसे मनाने का मुख्य उद्देश्य डाक सेवाओं और डाक विभाग के महत्व को बताना और लोगों को इसके प्रति जागरुक करना है। साल 1969 में टोकियो, जापान में आयोजित एक सम्मेलन में 9 अक्टूबर को डाक दिवस के ​रुप में मनाएं जाने का फैसला किया गया था। यह तारीख बर्न, स्विट्जरलैंड में 1874 में यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन की स्थापना की याद में निश्चित की गई है।

READ:  Smart Power India facilitates the world’s largest portfolio of 500 mini-grids 

समय के साथ हुए परिवर्तन
पुराने समय में डाक को एक जगह से दूसरे जगह पहुंचाना बहुत कठिन होता था। पर, जैसे—जैसे वक्त बदलता गया, डाक को पहुंचाना आसान हो गया। समय के साथ डाक को तकनीकों से जोड़ने का काम भी किया गया है। अब इसकी सेवाएं और भी आसान हो गई हैं।

डाक के फायदे
बता दें डाक सेवाओं का हमारे जीवन में महत्वपूर्ण योगदान है। डाक विभाग से लगभग 82 फीसदी वैश्विक आबादी को होम डिलीवरी का फायदा मिलता है। डाक विभाग ने 77 फीसदी ऑनलाइन सेवाएं दे रखी हैं। डाक विभाग लगभग 133 पोस्ट वित्तीय सेवाएं मुहैया कराता है। 83.62 फीसदी अंतराष्ट्रीय डाक सामग्री लगभग पांच दिन के मानक समय के अंदर वितरित की जाती हैं। जिससे कई लोगों को फायदा होता है। इतना ही नहीं डाक की इन सेवाओं से कई लोगों का रोजगार भी जड़ा है।