Home » भारतीय अर्थव्यस्था में वित्त वर्ष 2020-21 आ सकती है भारी गिरवाट, विश्व बैंक की रिपोर्ट का अनुमान

भारतीय अर्थव्यस्था में वित्त वर्ष 2020-21 आ सकती है भारी गिरवाट, विश्व बैंक की रिपोर्ट का अनुमान

World Bank report Indian economy decline 9.6 percent in Financial year 2020-21
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

World Bank report Indian economy decline 9.6 percent in Financial year 2020-21: विश्व बैंक ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था में वित्त वर्ष 2020-21 में 9.6 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान है। यह परिवार के स्तर पर व्यय और निजी निवेश में आई कमी के चलते हो सकता है। वहीं अगले वित्त वर्ष 2021-22 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 5.4 प्रतिशत वृद्धि होने अनुमान जताया गया है। विश्व बैंक ने वैश्विक आर्थिक संभावना की अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि कोविड-19 महामारी से असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों की आय बुरी तरह प्रभावित हुई है। असंगठित क्षेत्र में 80 प्रतिशत लोगों को रोजगार मिला हुआ है। (World Bank report Indian economy decline 9.6 percent in Financial year 2020-21)

READ:  कौन है Oxygen Man, Coronavirus से जूझ रहे लोगों की कैसे बचा रहा जान?

विश्व बैंक ने अपनी इस रिपोर्ट में कहा है कि, भारत में कोरोना महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था उस समय प्रभावित हुई जब इसमें पहले से ही गिरावट आ रही थी। वित्त वर्ष 2020-21 में उत्पादन में 9.6 प्रतिशत की गिरावट आने का अनुमान जताया गया है। यह परिवार की आय और निजी निवेश में तीव्र कमी को बताता है। (World Bank report Indian economy decline 9.6 percent in Financial year 2020-21)

बिहार: गरीबों को बंटने वाले गेंहू-चावल में घालमेल, रिपोर्ट में बड़ा खुलासा

विश्व बैंक ने कहा है कि भारत में आर्थिक वृद्धि दर 2021-22 में सुधरेगी और इसके 5.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है। वित्तीय क्षेत्र में कमजोरियों को देखते हुए कमजोर तुलनात्मक आधार पर मिलने वाली तेजी को निजी क्षेत्र की तरफ से कम निवेश प्रभावित करेगा। इस रिपोर्ट के अनुसार, बिजली खपत, पीएमआई (परचेजिंग मैनेजर इंडेक्स) जीएसटी संग्रह जैसे आंकड़े को देखने से पता चलता है कि सेवा और विनिर्माण क्षेत्र में पुनरूद्धार तेजी से हो रहा है।

READ:  ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में कारगर है Proning, ऐसे करें ये क्रिया

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम पर बीमा कंपनियों को हजारों करोड़ रुपये का मुनाफा

वहीं भारत से इतर, विश्व बैंक ने 2021 में वैश्विक अर्थव्यवस्था में चार प्रतिशत वृद्धि होने का अनुमान जताया है। विश्व बैंक की इस रिपोर्ट में वर्ष 2022 में वैश्विक अर्थव्यवस्था में 3.8 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान जताया गया है। इसके मुताबिक 2020 में विश्व अर्थव्यवस्था में 4.3 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया गया है।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।