GDP में बांग्लादेश, भूटान और श्रीलंका जैसे देशों से क्यों पिछड़ रहा भारत ?

GDP में बांग्लादेश, भूटान और श्रीलंका जैसे देशों से क्यों पिछड़ रहा भारत ?
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत साल 2020 में प्रति व्यक्ति जीडीपी (GDP) में बांग्लादेश, भूटान जैसे देशों से भी पिछड़ सकता है। आइए समझते हैं क्या है ये पर कपैटा और भारत इसमें भूटान, श्रीलंका , मालदीव और बांग्लादेश जैसे देशों से पिछड़ क्या रहा है?

कोरोना संकट की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था में आई भारी गिरावट को इसका मुख्य कारण माना जा रहा है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की एक रिपोर्ट के अनुसार इस साल भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 1,877 डॉलर (करीब 1.37 लाख रुपये) ही रह सकती है, जबकि बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 1,888 डॉलर (करीब 1.38 लाख रुपये) रह सकती है।


Indian Railways : 392 स्पेशल ट्रेनों को रेल मंत्रालय ने दी चलाने की मंज़ूरी, इस तारीख़ से शुरू होगा संचालन

READ:  कर्नाटक: ऑक्सीजन की कमी से 24 कोरोना मरीजों की अस्पताल में मौत

श्रीलंका और भूटान से भी पिछड़ेगा भारत ?

आईएमएफ के अनुसार इस साल भारत की प्रति व्यक्ति GDP इस साल करीब 10.5 फीसदी घटने की आशंका है। वहीं दूसरी तरफ बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति GDP में 4 फीसदी की बढ़त होगी। रिपोर्ट के अनुसार दक्षिण एशिया में भारत प्रति व्यक्ति जीडीपी के मामले में सिर्फ नेपाल और पाकिस्तान से ही आगे रहेगा। बांग्लोदश की प्रति व्यक्ति जीडीपी इस वजह से भी इस साल भारत से ज्यादा हो रही है, क्योंकि वहां की जनसंख्या भारत के मुकाबले काफी कम है और जीडीपी बढ़ती जा रही है।

क्या होती है GDP ?

यह किसी देश के घरेलू उत्पादन का व्यापक मापन होता है और इससे किसी देश की अर्थव्यवस्था की सेहत पता चलती है। किसी देश की सीमा में एक निर्धारित समय के भीतर तैयार सभी वस्तुओं और सेवाओं के कुल मौद्रिक या बाजार मूल्य को सकल घरेलू उत्पाद (GDP) कहते हैं। भारत में कुछ साल पहले इसमें शिक्षा, स्वास्थ्य, बैंकिंग और कंप्यूटर जैसी अलग-अलग सेवाओं यानी सर्विस सेक्टर को भी जोड़ दिया गया। इसकी गणना आमतौर पर सालाना होती है, लेकिन भारत में इसे हर तीन महीने यानी तिमाही भी आंका जाता है।

READ:  Proning for Oxygen Level: ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में कारगर है प्रोनिंग, ऐसे करें ये क्रिया

मध्य प्रदेश उपचुनाव : कांग्रेस का उपचुनाव जीतने का ख़्वाब शेख़चिल्ली की तरह है : गोविंद राजपूत

क्या होती है प्रति व्यक्ति GDP?

इसे किसी देश की आर्थिक समृद्धि मापने के लिए जीडीपी से बेहतर पैमाना आजकल माना जा रहा है। अक्सर यह देखा जाता है कि छोटे, कम जनसंख्या वाले विकसित औद्योगिक देशों की प्रति व्यक्ति GDP काफी ज्यादा होती है। प्रति व्यक्ति GDP यह बताती है कि किसी देश में प्रति व्यक्ति के हिसाब से आर्थिक उत्पादन कितना है। इसकी गणना किसी देश के कुल सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में वहां की कुल जनसंख्या का भाग देकर निकाला जाता है।

READ:  Best Mask for Coronavirus: कपड़े का या N95 मास्क, कोरोना से रक्षा के लिए देखें कौन सा मास्क है जरूरी

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।