Home » HOME » कौन था नवरीत सिंह ? ITO पर ट्रैक्टर दौड़ाते समय हादसे में हुई थी मौत

कौन था नवरीत सिंह ? ITO पर ट्रैक्टर दौड़ाते समय हादसे में हुई थी मौत

नवरीत सिंह
Sharing is Important

दिल्ली में किसान आंदोलन में 26 जनवरी को हुई रैली में ट्रैक्टर से स्टंट करते रामपुर के रहने वाले नवरीत सिंह की मौत हो गई थी। नवरीत सिंह (25) पुत्र साहब सिंह मूल रूप से श्रीगंगानगर जिले की श्रीकरणपुर तहसील के चक 7 एफएफ का निवासी था। नवरीत सिंह 20 जनवरी को गाजीपुर बॉर्डर गया था।

पुलिस की गोली से मरा नवरीत सिंह ?

परिजनों ने नवरीत की मौत के लिए पुलिस को जिम्मेदार ठहराया था। आरोप लगाया था कि नवरीत की मौत पुलिस की गोली से हुई है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट लगने से मौत की पुष्टि हुई थी। शरीर पर कोई बुलेट के निशान नहीं मिले थे। लेकिन नवरीत के घर के लोगों ने प्रत्यक्षदर्षियों के हवाले से कहा कि ट्रैक्टर पलटने से पहले ही उसे गोली मारी गई थी।

मरहूम नवरीत के पिता विक्रमजीत सिंह ने ‘द वायर’ से कहा, “जिस किसी ने उसका शव देखा, यही कहा कि उसे गोली लगी थी। पोस्टमॉर्टम करने वाले एक डॉक्टर ने भी कहा था कि गोली मारी गई थी, पर वह ऐसा लिख नहीं सकता।”

पुलिस ने बताया हादसा

इस वारदात के बात दिल्ली पुलिस ने एक वीडियो फुटेज जारी किया था, जिसमें यह देखा जा सकता है कि पुलिस बैरिकेड को तोड़ने की कोशिश में एक ट्रैक्टर पलट जाता है। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘कुछ किसान हमें मारने की कोशिश कर रहे थे। इसी दौरान एक ट्रैक्टर को हमने बैरिकेड से टकराते हुए देखा।

READ:  सावधान! ATM कार्ड से खरीदते हैं शराब, तो लग सकता है लाखों का चूना

ये देख हमारे कर्मी उसे बचाने गए। मगर गुस्साए किसानों के एक समूह ने उन्हें रोक दिया। इसी दौरान दुर्घटना में नवरीत सिंह की मौत हो गई। इसके बाद प्रदर्शनकारी किसान शव के साथ काफी समय तक बैठे रहे और पुलिस को शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाने से मना कर दिया।

कौन था नवरीत सिंह ?

डिबडिबा गांव निवासी साहब सिंह पेशे से किसान हैं। उन्होंने पढ़ाई के लिए पांच साल पहले अपने बेटे नवरीत को ऑस्ट्रेलिया भेजा था। जहां उसने दो साल पहले मनस्वीट कौर नाम की लड़की से शादी की थी। मनस्वीट बिलासपुर क्षेत्र के मिलकखानम थाना क्षेत्र के माठखेड़ा गांव की रहने वाली है। नवरीत ने एक होटल में नौकरी भी शुरू कर दी थी। लेकिन हाल ही में गांव लौट आया था। जहां उसने खेतीबाड़ी शुरू कर दी थी। नवरीत की इकलौती बहन कनाडा में रहती है।

READ:  अभिव्यक्ति की आज़ादी पर मंड़राते ख़तरे को पहचानना ज़रूरी…!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

ALSO READ