Home » HOME » कोरोना चीन से ही फैला है, पता लगाने के लिए WHO की टीम पहुंची वुहान

कोरोना चीन से ही फैला है, पता लगाने के लिए WHO की टीम पहुंची वुहान

coronavirus new guidelines corona tool kit How to get coronavirus vaccine and what is registration process for covid19 vaccine
Sharing is Important

कोरोना वायरस क्या सच में चीन से फैला है। क्या सच में कोरोना वहुान से आया है। क्या वुहान की टेस्टिंग लैब में कोरोना सबसे फैला था। वहां ऐसा क्या काम हो रहा था जिससे दुनिया भर में इतनी खतरनाक और जानलेवा बीमारी फैल गई। ऐसे तमाम सवालों से घिरा चीन और दुनिया भर के देश उसे शक की नजरों से देख रहे हैं। इन सवालों का पता लगाने WHO की 15 सदस्यों वाली टीम चीन पहुंच चुकी है।

चीन पहुंचते ही 15 सदस्यों वाली इस टीम को क्वारंटाइन कर दिया गया। जबकि इनमें से दो वैज्ञानिकों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव बताई गई जिसके बाद इन्हें सिंगापुर में रोक दिया गया है। जबकि इससे पहले इनके देश में हुए कई एंटीबॉडी, सीपीआर और कोरोना टेस्ट में इन लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। WHO के वैज्ञानिकों को इस तरह क्वारंटाइन करने के बाद दुनिया भर के देशों में फिर से संशय की स्थिति की शायद ही कोई बड़ा खुलासा हो लेकिन सच क्या है इनकी रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा।

READ:  संकट में है सीहोर-भोपाल टैक्सी सर्विस, कई ड्राइवर फल सब्ज़ी के लगा रहे ठेले

How to get Coronavirus Vaccine: कोरोना का टीका कब, कहां, कैसे लगेगा, आपके दिमाग में घूम रहे सभी सवालों के जवाब

WHO के दल में अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, जापान, ब्रिटेन, रूस, नीदरलैंड, कतर और वियतनाम के तमाम विशेषज्ञों की टीम हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिसंबर 2019 में कोरोना वायरस संक्रमण की सबसे चीन से खबर सामने आई थी। इसके बाद पूरी दुनिया इसकी जद में आ गई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अधिकारियों ने बुधवार को पेइचिंग में मीडिया को बताया कि वायरस की शुरुआत कहां से हुई, यह एक वैज्ञानिक सवाल है और उन्होंने सुझाव दिया कि इसके लिए विशेषज्ञों को दूसरे देशों का भी दौरा करना चाहिए। डब्ल्यूएचओ की टीम को दौरे के लिए देरी से अनुमति देने पर कई सवाल भी उठे हैं।

हालाकि इतने आरोपों के बावजूद चीन ये सिरे से खारिज करता आ रहा है कि वुहान से कोरोना फैला। वुहान में जानवरों के बाजार से कोरोना वायरस की शुरुआत होने की धारणा को चीन ने नकार दिया। हालांकि बीते एक साल से ही वुहान में जानवरों के मांस का बाजार बंद है। वहीं चीन ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि, कैसे यह वायरस जानवरों से इंसानों में पहुंचा, इन सवालों के जवाब उनके पास नहीं है। चीन के चिकित्सा विशेषज्ञ वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए WHO की पूरी मदद करेंगे।

READ:  अभिव्यक्ति की आज़ादी पर मंड़राते ख़तरे को पहचानना ज़रूरी…!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।