Home » MP BJP अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के बारे में 10 खास बातें

MP BJP अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा के बारे में 10 खास बातें

VD sharma MP BJP chief
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विष्णु दत्त शर्मा (VD Sharma) अब मध्य प्रदेश भाजपा (Madhya Pradesh BJP President) के नए अध्यक्ष होंगे। मूल रूप से मध्य प्रदेश के मुरैना के रहने वाले और खजुराहो सांसद वीडी शर्मा (Madhya Pradesh BJP President Vishnu Dutt Sharma) संघ यानी आरएसएस (RSS) की पृष्ठभूमि से आते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के करीबी और संघ के होने के चलते उनके नाम पर मुहर लगी।

1) युवाओं को नेतृत्व सौंपने की ओर बढ़ाया कदम
हांलाकि, अध्यक्ष पद के दावेदारों की रेस में नरोत्तम मिश्रा हों, कैलाश विजयवर्गीय, प्रभात झा, फग्गन सिंह कुलस्ते और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अलावा लाल सिंह आर्य अनुभव के मामले में वीडी शर्मा से काफी वरिष्ठ हैं लेकिन उन्हें प्रदेश अध्यक्ष की कमान सौंपना युवाओं को नेतृत्व सौंपने की ओर बढ़ाए गए कदम के रूप में देखा जा रहा है।

2) बतौर संघ प्रचारक करियर की शुरूआत
बतौर संघ प्रचारक अपने करियर की शुरूआत करने वाले वीडी शर्मा साल 1996 से लेकर साल 2018 तक करीब 22 साल संघ प्रचारक की भूमिका में रहे। वहीं साल 2018 के विधानसभा चुनाव में वीडी शर्मा टिकट के प्रबल दावेदार माने जा रहे थे, लेकिन एन मौके पर उनका टिकट कट गया।

जनता को इतना निचोड़ दो की जिंदा रहने को ही विकास समझे’

3) साल 2019 में खजुराहो से सांसद निर्वाचित और संसद में मोदी की तरह एंट्री
वहीं साल 2019 में हुए आम चुनाव के दौरान भी ऐसी अटकलें लगती रहीं कि वे लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं। इसके बाद उन्हें खजुराहो से टिकट मिला लेकिन बाहरी होने के चलते उन्हें क्षेत्र में स्थानीय नेताओं का भारी विरोध झेलना पड़ा। बावजूद इसके वीडी शर्मा खजुराहो से जीत हासिल करने में सफल रहें। इस दौरान जब उन्होंने बतौर सांसद पहली बार लोकसभा में कदम रखा तो हू ब हू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह सीढ़ियों पर माथा टेक संसद में एंट्री की।

READ:  Chinese soldiers crossed LAC in Uttarakhand last month

4) पार्टी स्तर पर पकड़ मजबूत कर रहा संघ
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, संघ अब पार्टी स्तर पर अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है। वीडी शर्मा को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने का एक कारण यह भी माना जा रहा है कि आरएसएस बीजेपी में दिग्गज नेताओं हटरकर नेतृत्व की लाइन-बी खड़ा करने पर काम कर रहा है।

5) जातिगत समीकरण: वीडी शर्मा का अध्यक्ष बनना कई मायनों में खास
इन सब से इतर अगर जातिगत समीकरण को देखा जाए तो, ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि, प्रदेश अध्यक्ष या तो दलित या फिर ओबीसी हो सकता है लेकिन वीडी शर्मा का प्रदेश अध्यक्ष बनना कई मायनों में खास समझा जा रहा है।

6) ब्राह्मणों की नाराजगी दूर करने में निभा सकते हैं अहम भूमिका
गौरतलब है कि इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पार्टी का ओबीसी चेहरा थे। इस लिहाज से समझा जा रहा था कि प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर किसी आदिवासी या दलित चेहरे को मौका मिल सकता है। हांलाकि, बतौर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ब्राह्मण चेहरा हैं। माना जा रहा है कि उच्च जाति की नाराजगी को दूर करने में वीडी शर्मा महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

7) 1987 में विद्यार्थी परिषद से जुड़े, राष्ट्रीय महासचिव भी रहे
वीडी शर्मा ने अहम जिम्मेदारियां निभाते हुए एक लंबा अरसा विद्यार्थी परिषद में बिताया। वे 1987 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े थे। करीब सात साल पहले ही वे पार्टी में आए हैं। साल 2019 में लोकसभा पहुंचे और इससे पहले तक वे पर्दे के पीछे रहकर ही अपनी भूमिका निभाते रहे हैं। विष्णु दत्त एबीवीपी में संगठन सचिव और राष्ट्रीय महासचिव भी रह चुके हैं।

8) साल 2015 में नेहरू युवा केन्द्र के उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए
राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त विष्णु दत्त तिवारी को साल 2015 में मोदी सरकार द्वारा नेहरू युवा केन्द्र के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए।

READ:  Mother and son hanged themselves : मां बेटे मिले फांसी के फंदे पर लटके, पुलिस ने जताई घरेलू मतभेद की आशंका

9) अमित शाह को बाइक पर बिठा किया था चुनावी कैंपेन
एक चुनाव कैंपेन के दौरान तत्काली बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और वीडी शर्मा की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुई थी। इस तस्वीर में अमित शाह और वीडी शर्मा एक बाइक पर नजर आए। बाइक वीडी शर्मा चला रहे थे और अमित शाह उनके पीछे बैठे थे। यह तस्वीर उन दिनों चर्चा का केन्द्र रही।

10) प्रदेश स्तर के वरिष्ण नेताओं से मधुर संबंध
सांसद बनने के महज नौ महीने बाद ही केन्द्रीय नेतृत्व ने विष्णु दत्त को मध्य प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष की अहम जिम्मेदारी सौंपी हैं। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित मध्य प्रदेश के कई अन्य नेताओं से वीडी शर्मा के मधुर संबंध हैं। करीब तीन महीने पहले ही वीडी शर्मा के प्रदेश अध्यक्ष बनने के कयास लगने शुरू हो चुके थे।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups