भारत को कब मिलेगी कोरोना महामारी से मुक्ति ?

भारत को कब मिलेगी कोरोना महामारी से मुक्ति ?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देश में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर अब जो सवाल बार-बार पूछा जा रहा है वो यह कि आख़िर कब मिलेगी कोरोना से मुक्ति ?  अधिकतर लोग इसी सवाल के जवाब की तलाश में हैं। क्या वैक्सीन आते ही कोरोना ख़त्न होने लगे गा ? बिना वैक्सीन कोरोना ख़त्म नहीं हो सकता ? क्या वैक्सीन आ जाने के बाद भी कोरोना ख़त्म नहीं होगा ? इस तरह के तमाम सवाल हैं जिनका जवाब लोग चाहते हैं।

इंडिया टुडे ग्रुप हेल्थगिरी अवॉर्ड्स’ कार्यक्रम में डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि सब कुछ सही रहा तो जनवरी, 2021 तक कोरोना वायरस की वैक्सीन आ सकती है। एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने अगले साल की शुरुआत में कोरोना वायरस की वैक्सीन आने की उम्मीद जाहिर की है। उन्होंने कहा कि दुनिया को एक से डेढ़ साल में कोरोना से मुक्ति मिल सकती है।

Gandhi Jayanti 2020 : महात्मा गांधी की वो 5 बातें जो आपके जीवन को बदल सकती हैं..

इस शो पर डॉक्टर गुलेरिया से पूछा गया कि भारत जैसे घनी आबादी वाले देश में कोरोना वायरस की वैक्सीन कैसे बांटी जाएगी, तो इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता पहले गंभीर मामले वाले कोरोना के मरीजों को बचाना है ताकि मौत के मामलों पर कंट्रोल किया जा सके।

कोरोना वायरस की वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर डॉ. गुलेरिया ने कहा, जब भी हम वैक्सीन का ट्रायल करते हैं तो जानवरों पर लंबे वक्त तक ट्रायल करते हैं। वक्त बचाने के लिए पहले, दूसरे और तीसरे फेज का ट्रायल साथ चल रहा है।

What Gandhi Ji And Shastri Ji Convey To Youth

 जब हम वैक्सीन उतारेंगे तो जिन लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी तो उनकी भी निगरानी होगी कि कहीं उन पर कोई साइड इफेक्ट तो नहीं हो रहा है। अलग-अलग उम्र के लोगों और नस्ल के लोगों में भी वैक्सीन के प्रभाव को देखना होगा। वैक्सीन की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

वहीं पूरी दुनिया में वैक्सीन किस आधार बांटी जाएगी? इस सवाल के जवाब में डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि इसके लिए WHO ने कुछ गाइडलाइन्स बनाई हैं जिसमें गरीब देशों को प्राथमिकता दी जाएगी।

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि जिन लोगों में पहले से कोई बीमारी है उनमें संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में हमारी प्राथमिकता बुजुर्गों और ऐसे लोगों को बचाने की होगी। कुछ लोगों के शरीर में इंफेक्शन तेजी से फैलता है। इस महामारी को खत्म करना है तो प्रॉयोरिटी के साथ वैक्सीनेशन होना चाहिए।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।