दिल के मरीज़

दिल के मरीज़ क्या करें क्या न करें ?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ज्यादातर लोग दिल की बीमारी को एक लाइलाज बीमारी समझते हैं, इसी कारण वे इससे निजात नहीं पा पाते हैं। लेकिन यदि उन्हें यह पता हो कि किसी भी बीमारी की तरह दिल की बीमारी का भी उपचार संभव है। आइए जानते हैं कि एक दिल के मरीज़ को क्या करना चाहिए और क्या नहीं ।

दिल के मरीज़ क्या करें

  • दिल के मरीज़ को रोज़ाना व्यायाम करना चाहिए। यह ह्रदय रोग का इलाज करने का सबसे सामान्य तरीका होता है, जिसके काफी अच्छे परिणाम होते हैं। आपका शरीर और दिल दोनों हेल्दी बने रहते हैं। भाग-दौड़ भरी लाइफ में आप अगर प्रतिदिन व्यायाम करने में कुछ समय देते हैं तो आप काफी हद तक खुद को बचा सकते हैं ।
  • दिल के मरीज़ के लिए सबसे ज़रूरी है कि वो समय-समय पर ईसीजी या ब्लड टेस्ट कराता रहे। ह्रदय रोग से निजात पाने में कुछ टेस्ट जैसे ईसीजी या ब्लड टेस्ट कारगार साबित होते हैं। अगर आप दिल के मरीज़ हैं तो इन टेस्टों को नज़रअंदाज़ न करें ।
  • वर्तमान समय दिल के रोगियों के लिए सबसे बड़ी समस्या जो बनी हुई है, वो है उनका खान-पान । अगर आप दिल के मरीज़ हैं तो अपना डाइट प्लान ज़रूर बना लें । कई बार डाइट प्लान में बदलाव करके में दिल की बीमारी का इलाज किया जा सकता है।
  • जब किसी दिल के मरीज़ की समस्या अपने चरम पर पहुंच जाए तब उसे सर्जरी का ही सहारा बचता है, तब डॉक्टर उसे सर्जरी कराने की सलाह देते हैं। अधिकांश मामलों में दिल की सर्जरी ना हो पाने का सबसे बड़ा कारण होता है पैसों की कमी। वर्तमान समय में दिल की सर्जरी कराना काफी महंगा हो गया।
  • भोजन की ह्रदय रोग में महत्वपूर्ण भूमिका होती है क्योंकि यह इस बात को सुनिश्चित करता है कि व्यक्ति कितनी जल्दी ठीक होगा। ह्रदय रोगी को ऐसे तेल का सेवन करना चाहिए जिसमें ओमेगा 3 हो, क्योंकि ये तेल कॉलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होते हैं।
  • ह्रदय रोग में फल और सब्जी खाने चाहिए। ये दिल के खतरे को कम करने में सहायक होते हैं। फाइबर खाना  इस स्थिति में साबुत अनाज और फल और सब्जियां का सेवन करना लाभदायक साबित होता है।
READ:  क्या होता है प्री मेंस्ट्रुअल सिंड्रोम ?

दिल के मरीज़ क्या न करें

  • किसी भी ह्रदय रोगियों के लिए नशीले पदार्थ का सेवन करना नुकसानदायक साबित हो सकता है, इसलिए उसे इनका सेवन नहीं करना चाहिए। नशीले पदार्थों से दूरी बनाए रखना ही आपके और आपके दिल के लिए लाभदायक होता है। अगर आप नशीलें पदार्थ के सेवन के आदी हैं तो आप अपना समस्याओं को बढ़ावा दे रहे हैं।
  • अगर आप दिल के मरीज हैं तो आपको फास्ट फूड का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह दिल को नुकसान पहुंचा सकता है। आज-कल फॉस्ट फूड का चलन आम बात है । समय की कमी के चलते अधिकतर नौकरीपेशा लोग रोज़ाना के खाने में फॉस्ट फूड़ को ही जीवन का हिस्सा बना लेते हैं। लंबे समय तक फॉस्ट फूड का उपयोग आपको कई तरह की बीमारियों की ओर ले जा सकता है ।
  • एक ह्रदय रोगियों में कम मात्रा में नमक और चीनी का सेवन करना चाहिए क्योंकि ज्यादा मात्रा में इन चीजों का सेवन करना दिल के लिए नुकसानदायक हो सकता है। नमक और चीनी को छोड़पाना इतना आसान नहीं होता मगर जब आपको दिल से संबधित कोई समस्या है तो इन दोनों के अधिक उपयोग से बचना चाहिए ।
  • डीप फ्राइड फूड ना खाएं ये काफी अनहेल्‍दी होते हैं। फ्राई किये फूड में ढेर सारा carcinogen पाया जाता है जो कि हृदय की बीमारी पैदा करता है और कोलेस्‍ट्रॉल, कैंसर तथा मोटापा बढाता है । मोटापा बढ़ना दिल के रोगी के लिए ठीक नहीं होता है । अगर आप इस तरह के भोजन के आदी हैं तो आप अपनी मुश्किलों को बढ़ा सकते हैं।
  • टमाटर केचप में कृत्रिम स्‍वाद और प्रिजर्वेटिव्‍स मिलाए जाते हैं, जो कि टेस्‍टी तो लगते ही हैं साथ में इनसे कैलोरीज़, कोलेस्‍ट्रॉल और वसा भी बढता है जिससे हृदय रोग का खतरा और भी ज्‍यादा बढ जाता है। अगर आप सुबह के नाश्ते में इसका इस्तेमाल करते हैं तो इसके इस्तेमाल से बचें ।
READ:  इम्यूनिटी बढ़ाने के 5 कारगर तरीक़े

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.