हार्ट अटैक के मरीज़

हार्ट अटैक के मरीज़ क्या करें क्या न करें ?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हार्ट अटैक जानलेवा होता है। लेकिन कुछ सावधानियां बरत कर आप इसके खतरे को कम कर सकते हैं। एक बार हार्ट अटैक झेल चुके मरीजों को खास सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। अगर वो हार्ट अटैक आने के बाद सावधानी नहीं बरतेंगे, तो दोबारा अटैक आने का खतरा बढ़ सकता है। हार्ट अटैक के बाद कई चीजों का आपको ख्याल रखना पड़ता है ताकि आपको दोबारा इसका खतरा ना हो। खानपान से लेकर अपनी लाइफस्टाइल हर बात का आपको ध्यान रखने की जरूरत पड़ती है।

हार्ट अटैक के मरीज़ क्या करें

  • जिन लोगों को शुगर और बीपी की शिकायत है, वे अपने डॉक्टर की सलाह से बीपी और शुगर का लेवल कंट्रोल में रखने के उपाय करें क्योंकि इन दोनों का लेवल कंट्रोल न होने से हार्ट पर जोर पड़ता है जिससे हार्ट फेल हो सकता है।
  • अपने डॉक्टर से दवाइयों के बारे में नियमित सलाह-मशविरा करते रहें। डॉक्टर की बताई गई दवाई नियमित रूप से समय पर लें।  डॉक्टर से बात करके दवाइयों की मात्रा बढ़वा सकते हैं क्योंकि हार्ट पेशंट्स को दवाई की जरूरत ज्यादा पड़ती है।
  • अगर किसी कारण आपकी एसिडिटी बढ़ जाती है। इससे हार्ट में क्लोट्स बनने लगते हैं। सुबह उठकर गुनगुना पानी पीना चाहिए। गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद और आधा नीबू मिलाकर पिएं। यह शरीर की एसिडिटी को कम करेगा और दिल से संबंधित सम्स्या ले भी लड़ने में काम आएगा ।
  • एक्सरसाइज से हार्ट पेशंट को काफी लाभ होता है। लंबी और गहरी सांस वाली कोई भी कसरत अच्छी होती है, लेकिन धीरे-धीरे ही करें। वॉक करें और वह भी धीरे-धीरे बिना सांस फूले। हर रोज 35 से 40 मिनट वॉक करें यानी 3-4 किलोमीटर चलें। एक बार में इतना चलें या फिर दिन में दो-तीन बार में।
  • खट्टे फल आपकी इम्युनिटी और ब्लड सर्कुलेशन को दुरुस्त रखेंगे। संतरा, मौसमी, कीनू, कीवी, अनार, पाइनएपल, आंवला आदि से शरीर में विटामिन-सी बढ़ता है और ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे शरीर पर होने वाले वायरल और बैक्टीरिया के अटैक से बचाव होता है। विटामिन-सी से बढ़ी इम्युनिटी दिल की हिफाजत करेगी।
READ:  क्या है PMS, Premenstrual Syndrome? देखें Periods से पहले की दिक्कतें और उपाय!

हार्ट अटैक के मरीज़ क्या न करें

  • अगर आप हार्ट अटैक के मरीज़ है तो आप कोई भी ऐसे काम से बचें जिसमें आपको ज्यादा ताकत लगाना या भार उठाना पड़े। इनका आपके दिल पर बुरा असर पड़ेगा। साथ ही, अटैक के बाद कम से कम 2 से 3 हफ्तों तक फिजिकल रिलेशन बनाने से बचें। दिल पर जोर पड़ना आपके लिए ख़तरनाक साबित हो सकता है।
  • अगर आप हार्ट अटैक के मरीज़ के लिए बेहद ज़रूरी है कि वो डिप्रेशन और तनाव से जितना दूर हो रहें। तनाव या ज्यादा सोचने से आपके दिल पर बुरा असर पड़ता है। इसके अलावा, आप अपने वजन पर भी कंट्रोल रखें। मोटापे की वजह से भी हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। दोनो चीज़े आपके लिए ध्यान रखना बेहद ज़रूरी है।
  • डॉक्टर के मुताबिक़, एक हार्ट अटैक झेलने के बावजूद सिगरेट पीते रहना मुसीबत को न्योता देना है। सिर्फ़ सिगरेट ही नहीं, तंबाकू, वह चाहे किसी भी रूप में हो, उससे दूरी बना लेनी चाहिए। इसके अलावा, उन जगहों से भी दूरी बना लेनी चाहिए जहां रहने पर तंबाकू का धुआं सांस के साथ आपके अंदर जा रहा हो क्योंकि यह भी आपके दिल के लिए सिगरेट पीने जितना ही ख़तरनाक है।
  • जिन लोगों को शूगर भी है उन्हें मीठे का परहेज जैसे सफेद चीनी, मिठाइयां, शकरकंद, बहुत मीठे फल जैसे अंगूर, चीकू इत्यादि एवं आलू, चावल कम मात्रा में लेना चाहिए। कम खाना ज्यादा बार खाना चाहिए ना कि ज्यादा खाना कम बार। कई बार शूगर होने पर आप अगर इन चीज़ों का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो आपके लिए ये नुक़सानदायक साबित हो सकता है ।
  • कोलेस्ट्रॉल को अपने दिल के करीब न फटकने दें। बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल से दिल से संबंधित बीमारियों का खतरा बना रहता है। इसलिए हाई ब्लड प्रेशर और बढ़े कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करन के लिए दवाइयों और डाइट पर ध्यान देने काफी जरूरी हैं।
READ:  VIDEO: क्या आपको भी सता रहा है कोरोना वायरस होने का डर, देखें इससे जुड़े सवालों के जवाब

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.