सावधान WhatsApp यूजर्स : Google पर लीक हुए प्राइवेट चैट

WhatsApp new privacy policy
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

WhatsApp new privacy policy अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के बाद WhatsApp विवादों में घिरा है। WhatsApp ने मोटे तौर पर ये साफ कर दिया है कि नई प्राइवेसी पॉलिसी में यूजर्स की चैट तो सिक्योर हैं, लेकिन वो यूजर डेटा पर फेसबुक की पूरी नजर बने रहेगी। विवादों के बीच अब WhatsApp की एक और बड़ी खामी निकल कर आ रही है।

एक बार फिर से WhatsApp ग्रुप्स गूगल सर्च में दिखने लगे। यानी किसी भी प्राइवेट WhatsApp ग्रुप को यूजर्स गूगल सर्च करके ज्वाइन कर सकते हैं। इससे पहले 2019 में वॉट्सऐप ग्रुप गूगल सर्च में दिखने लगे थे, जिसके बाद कंपनी ने दलील दी और इसे ठीक किया गया। सिक्योरिटी रिसर्चर के मुताबिक एक बार फिर से गूगल सर्च में WhatsApp यूजर्स के कॉन्टैक्ट्स भी दिख रहे हैं। हालांकि अब इसे भी ठीक कर लिया गया है।

READ:  प्रशासन की तानाशाही और छात्रों का डीपी विरोध, कब खुलेगा IIMC?

WhatsApp new privacy policy

गौरतलब है कि इससे पहले गूगल सर्च में WhatsApp यूजर्स के प्रोफाइल भी दिखने लगे। हालांकि अब WhatsApp ने एक बार फिर से ठीक भी कर लिया है। लेकिन ये मामला काफी गंभीर है। क्योंकि वॉट्सऐप पर किसी ऑफिस का या संवेदनशील चीजों के लिए किसी ने ग्रप बनाया है जिसे गूगल सर्च करके कोई भी ज्वाइन कर सकता था।

इंटरनेट सिक्योरिटी रिसर्चर राजशेखर ने ट्वीट में कुछ स्क्रीनशॉट शेयर किए हैं। इन स्क्रीनशॉट में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कैसे एक सिंपल गूगल सर्च से कोई भी शख्स किसी भी वॉट्सऐप ग्रुप में लिंक के जरिए एंटर कर सकता है। नोट करने वाली बात ये भी है कि लिंक के जरिए वॉट्सऐप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए किसी की परमिशन की भी जरूरत नहीं होती है।

READ:  लिव इन रिलेशन को नकारने वाला समाज नाता प्रथा पर चुप क्यों रहता है?

क्या भारत में ‘लव-जिहाद’ के ख़िलाफ क़ानून संभव है, क्या कहता है संविधान?

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।