Lumpy virus : क्या है लंपी वायरस जो पशुओं की ले रहा जान ?

दुनियाभर में इस वक्त तरह-तरह के वायरस अपना कहर बरपा रहे हैं। कोरोना के बाद से वायरस के बहुत से रूप देखने को मिल मिलते रहे हैं। अब देश में लंपी का वायरस (Lumpy virus) कहर जारी है। यह लंपी वायरस पशुओं (Lumpy skin disease) को अपनी चपेट में ले रहा है। पंजाब में इस लंपी वायरस ने हज़ारों पशुओं को चपेट में लिया है।

गाय-भैंसों में फैल रहे इस वायरस (Lumpy virus) ने पंजाब, राजस्थान, गुजरात में कहर बरपाने के बाद अब इस लंपी वायरस ने उत्तर प्रदेश के कई जिलों में अपनी दस्तक दे दी है। सरकार ने सभी जिलों को अलर्ट किया है। पशुओं में फैसी इस स्किन बीमारी (Lumpy skin disease) के कारण कई राज्यों में दूछ की सप्लाई पर असर पड़ रहा है।

Lumpy virus : क्या है लंपी वायरस ?

  • एलएसडी गाय और भैंसों में फैलने वाला एक संक्रामक रोग है तो तेजी से एक दूसरे में फैलता है। इसमें पशु की त्वचा पर गांठें हो जाती हैं। त्वचा खराब हो जाती है। इससे पशुओं में
  • लंपी एक गाय और भैंसों में फैलने वाला वायरस है। ये पशुओं को अपनी चपेट में तेज़ी से लेता है। लंपी वायरस की चपेट में आने के बाद पशुओँ की त्वचा ख़राब होने लगती है। त्वचा पर गांठें पड़ने लगती हैं।
  • इस कारण पशुओं में गर्भपात, बांझपन, पशुओं के बच्चों में कम विकास, निमोनिया, पेरिटोनिटिस, लंगड़ापन कमजोरी, दुधारू पशु में दूध क्षमता कम होना जैसी समस्या हो जाती है या फिर इस कराण मौत हो सकती है।

लंपी वायरस कैसे फैलता है ?

यह लंपी वायरस (Lumpy virus) पहली बार 1929 में जाम्बिया और अफ्रीकी देशों में फैला था। यह रोग पशुओं से मनुष्यों में नहीं फैलता है। यह वायरस काटने वाली मक्खियों, मच्छरों एवं जूं के सीधे संपर्क में आने से पशुओं में फैलता है।

संक्रमित पशु में कई बार दो से पांच सप्ताह तक लक्षण नहीं दिखते और फिर अचानक यह रोग नजर आ जाता है। दूषित दाने, पानी से भी यह फैल सकता है।

कोई पशु इसकी चपेट (Lumpy virus) में आता है। तब उसको तेज़ बुखार, भूख में कमी, शरीर में गोल उभरी हुई गांठें, फेफड़ों में संक्रमण के कारण निमोनिया, पैरों में सूजन, लंगड़ापन, जैसी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।चिकित्सक कहते हैं कि इस रोग (Lumpy virus) के फैलने की आशंका बीस प्रतिशत है और मृत्यु दर पांच प्रतिशत तक।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterKoo AppInstagram, and Whatsapp and Subscribe to our YouTube channel. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com

%d bloggers like this: