Home » Anoop Mandal | जानिए क्या है अनूप मंडल ? क्यों कर रहे है जैन इनका विरोध ?

Anoop Mandal | जानिए क्या है अनूप मंडल ? क्यों कर रहे है जैन इनका विरोध ?

Anoop Mandal | जानिए क्या है अनूप मंडल ? क्यों कर रहे है जैन इनको विरोध ?
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk | Anoop Mandal | Why are jains protesting against Anoop mandal ? कहने को तो हमारा समाज विकसित हो रहा है पर आज भी धार्मिक मतभेदों के कारण कुछ जगहों में विवाद थम नहीं रहे हैं। इसी तरह से, अनूप मंडल उत्तर भारत के कुछ राज्यों में स्थित एक जैन विरोधी संगठन है जो जैन भिक्षुओं और ननों के खिलाफ लोगों के मन में जहर घोलता है। इन राज्यों में इस जैन विरोधी संगठन के 50 लाख से भी ज्यादा फॉलोअर्स हैं। वह कहते है कि इस दुनिया में भूकंप और ग्लोबल वार्मिंग के पीछे जैन भिक्षु हैं।

क्या है अनूप मंडल ? What is Anoop Mandal ?
दुनिया भर में, सक्रिय होने या सिद्धांत देने के नाम पर कुछ अलग होने या करने का प्रचलन है, फिर चाहे वह क्लाइमेट चेंज की बात हो या महिलाओं को विषाक्त स्त्रीवाद (Toxic femenity) से मुक्त करने के नाम पर पवित्र पानी में डुबकी लगवाना ही क्यों न हो। अनूप मंडल की मान्यताएं जगतितकर्णी की शिक्षाओं से बनी हैं, जिसका अर्थ होता है, ‘दुनिया के कल्याण के लिए’ जिसे सन 1909 में लिखा गया था।

Madhya Pradesh: बैंक से अपना ही पैसा निकालने के लिए रात भर से कतार में लगे हैं किसान

वास्तव में, इस विषय पर ज़्यादा शोध या साहित्य मौजूद नहीं है, लेकिन 1991 में छपी किताब ‘ऑडियंस गैदरिंग: द जैन्स इन सोसाइटी’ में बताया गया है कि अनूप दास नाम के एक व्यक्ति द्वारा 1920 में इस “जैन-विरोधी” संगठन की शुरुआत हुई जो की यूरोप के साम्यवाद से प्रभावित था। पुस्तक में यह भी बताया गया है कि कैसे अनूप मंडल के कार्यकर्ताओं ने स्वतंत्र भारत में जैन गांवों पर छापा मार अधिकार ज़माने कि कोशिश की, पर बाद में प्रशासन ने इसे प्रतिबंधित (ban) कर दिया, इस प्रशाशनिक मंत्रीगण में ज़्यादातर जैन थे।

READ:  IND vs SL: श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे में भारत की पारी की शुरुवात के लिए इन दो खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका

अनूप मंडल के सक्रियतावाद (activism) का तरीका क्लाइमेट चेंज (Climate Change) के विषय से घनिष्ट तरह से जुड़ा हुआ है। इससे ये भी प्रतीत होता है जैसे ये बेहद चालाकी से क्लाइमेट चेंज (Climate Change) को अपना सह-विकल्प बना कर उसी की आड़ में जैन भिक्षुओं के खिलाफ कार्य कर रहे है।
ये राजस्थान में इसीलिए और सक्रिय है क्योंकि वहां पर्यावरण काफी गंभीर मुद्दा है। वहां की जनजातीय (Tribal) जंगलों को लेकर ऐसे भी काफी सहज है क्योकि उनका जीवन उसी वन से जुड़ा हुआ है। राजस्थान एक शुष्क प्रदेश है जहाँ का वनीय क्षेत्र (Forest Cover) मात्र 8 फीसदी है और तापमान लगातार 50 सेल्सियस के ऊपर ही रहता है।

जैन इस संगठन का विरोध क्यों कर रहे हैं?
जैनों ने कहा कि अनूप मंडल उत्तर भारत राज्यों में स्थित एक जैन विरोधी संगठन है, जो जगतितकर्णी की शिक्षाओं का पालन करता है। यह लोगों को जैन धर्म के खिलाफ भड़काता है और शुरआत से ही उन पर हमलें करता आ रहा है।

READ:  पोर्न फिल्में बनाने के आरोप में शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा गिरफ्तार!

Randeep Hooda को गिरफ्तार करने की मांग? पूर्व मुख्यमंत्री पर की आपत्तिजनक टिप्पणी !


जैन समुदाय ने इस जैन विरोधी संगठन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है, 2017 में उस्मानपुरा निवासी ने अनूप मंडल के खिलाफ कई पुलिस शिकायतें भी दर्ज करी हैं। उन्होंने कहा, “यह पंथ खुले तौर पर जैन समुदाय को गाली देता है और अब वह अब हमारे भिक्षुओं पर हमला भी कर रहे हैं,” उन्होंने कहा कि जैन भिक्षुओं की हत्या करने वाले अधिकांश सड़क दुर्घटनाएं उन केंद्रों के 20-30 किमी के भीतर हुईं जहां ‘अनूप मंडल’ को सक्रिय रहने को कहा। ट्विटर पर एक यूजर ने इस पर कई जानकारी भी साझा की है :

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।