Covishield और Covaxin

कोरोना वैक्सीन लगवाने से क्यों डर रहे हैं लोग? क्या है इसके कारण, यहां देखें निदान

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Corona Vaccine देश के अंदर वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है लेकिन अभी भी लोगों में कोरोना वैक्सीन को लेकर हिचकिचाहट और शंकाएं हैं जिसके कारण वह कोविड-19 वैक्सीन नहीं लेना चाहते हैं। पिछले साल से शुरू हुआ इस कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है इस महामारी ने करोड़ों लोगों को अपना शिकार बनाया इस बीमारी की तेजी से बढ़ती रफ्तार ने लोगों के अंदर दहशत और डर पैदा कर दिया जिसके वजह से लोगों को करीबन साल भर घर के अंदर कैद रहना पड़ा लेकिन वैज्ञानिक और मेडिकल एक्सपर्ट्स ने दिन-रात एक करके आगे का 2020 के अंत तक इस बीमारी का इलाज करने के लिए वैक्सीन तैयार कर लिया इसके साथ ही लोगों को वैक्सीन लगना भी शुरू हो गया है हालांकि लोग वैक्सिंग की सुरक्षा और प्रभाव को लेकर अभी भी डरे हुए हैं जिसके कारण वह इस वैक्सीन को लगाने से बच रहे हैं।

वैक्सीन ना लगवाने के क्या कारण है –
सर्वेक्षण के मुताबिक भारतीय नागरिकों के बीच वैक्सीन न लेने का मुख्य कारण वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स और प्रभावशालता की अनिश्चिता है जो कि एक बड़ी समस्या है क्योंकि यह वैक्सीन ना लगवाने से या संकोच करने से आगे चलकर एक बड़ी समस्या बन सकती है। आपको बता दें कि 59% लोग ऐसे हैं जिन्होंने कहा कि वह साइड इफेक्ट से कोविड-19 वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते हैं। वही 14% ऐसे लोग हैं जिन्होंने कहा है कि वह वैक्सीन के प्रभाव को लेकर अनिश्चितता की वजह से वह वैक्सीन लेने से झिझक रहे हैं। केवल 4% ऐसे लोग हैं जो कह रहे हैं कि उन्हें वैक्सिंग की जरूरत नहीं है। क्योंकि कोविड-19 महामारी का असर धीरे-धीरे कम हो रहा है और यह खत्म हो जाएगा। इसलिए उन्हें वैक्सीन की कोई आवश्यकता नहीं है।

  • लोग वैक्सीन लगवाने से क्यों डर रहे हैं – इसके कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं:
  • कोरोना के केस कम होना
  • रिकवरी रेट ज्यादा होना
  • लोगों को नेगेटिव सूचनाएं ज्यादा मिलन को वैक्सीन
  • वैक्सीन पर लोगों का ट्रस्ट नहीं होना
  • जनता को सेफ्टी की गारंटी नहीं मिलने से
  • लोगों में बीमार होने का डर होना
  • मौत का डर और मौत से जुड़ी खबरें मिलने से

  • कोवैक्सीन और कोविशील्ड किन्हें नहीं लगवाना चाहिए –
  • जिन्हें एलर्जी की कोई शिकायत हो
  • जिन्हें किसी दवा से एलर्जी होती हो
  • जिन्हें बुखार आ रहा हो
  • जो लोग बिल्डिंग डिसऑर्डर के पेशेंट हो
  • यदि आपका ब्लड थिनर पर हो
  • यदि इम्यूनिटी को लेकर आप कोई दवा ले रहे हो
  • जो महिलाएं प्रेग्नेंट है या प्रेगनेंसी की प्लानिंग कर रही हो
  • बेस्ट फीडिंग करवाने वाली महिलाओं को
  • किसी गंभीर बीमारी से आप जूझ रहे हो तो
  • यदि आपने पहले से ही कोई कोरोना की वैक्सीन लें रखी हो तो।
READ:  लॉकडाउन में TV चैनलों की चांदी, अख़बार हुए बर्बाद

वैक्सीन के सामान्य साइड इफेक्ट-

  • इंजेक्शन लगने के स्थान पर दर्द, सूजन, लाल, खुजली होना
  • त्वचा का नर्म या गर्म पड़ना
  • शरीर दर्द से दर्द होना
  • इंजेक्शन लगने वाली जगह पर गांठ बनाना
  • हाथों में जकड़न और कमजोरी होना
  • सांस लेने में दिक्कत
  • जोड़ों या मांसपेशियों में दर्द होना
  • उल्टी-मतली होना
  • फ्लू के लक्षण
  • अस्वस्थ महसूस करना
  • थकान लगना

वैक्सीन के गंभीर साइड इफेक्ट-
1) चक्कर आना
2) भूख में कमी
3) लिम्फ नोड्स का बढ़ना
4) पेट दर्द
5) खूब पसीना आना
6) त्वचा में खुजली और रैशेज ज्यादा होना

साइड इफेक्ट यदि नजर आए तो क्या करें –
1) वैक्सीनेशन ऑफिसर से संपर्क करें
2) तुरंत नजदीकी हॉस्पिटल जाए
3) डॉक्टर से सलाह लें
4) बुखार या दर्द है तो पेरासिटामाॅल लें
5) एलर्जी में एंटीस्टेटिक दवा लें
6) उल्टी हो तो ओन्देनसेट्रोन लें।

READ:  The Ring Of Fire; all set to occur this 'Sun'day!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: