IIT कानपुर ई-समिट 2019: मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में स्टार्टअप शुरू करने के बेहद महत्वपूर्ण टिप्स: देखें

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Nehal Rizvi | Ground Report

आईआईटी कानपुर में ई-समिट 2019 के तीन दिवसीय कार्यक्रम में शनिवार को इंवेंटो रोबोटिक्स कंपनी के सीईओ बालाजी विश्वनाथन ने छात्रों को दिए स्टार्टअप चालू करने के टिप्स।

बालाजी विश्वनाथन ने छात्रों को संबोधित करते हुए बताया कि  वर्तमान समय में सर्विस सेक्टर की हालत खस्ता हो चुकी है. कंपनियों में बड़ी संख्या में नौकरियां जनरेट नहीं हो पा रही हैं, लेकिन मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में नौकरियों का जनरेट होना अभी भी जारी है। लेकिन भारतीय लोग मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र को बुरा मानते हैं। किसी चीज का उत्पाद करने में ज्यादा विश्वास नहीं रखते। जबतक हम इस सोच को नहीं बदलेंगे, तबतक हम विकसित देशों की श्रेणी में शामिल नहीं हो पाएंगे।

ALSO READ:  क्या गोर्बाचोफ की तरह अपने देश को 'बिखेर' देंगे ट्रंप?

ग्लैमर के दिखावे में आकर स्टार्टअप नहीं करना चाहिए

बालाजी विश्वनाथन कहते हैं कि स्टार्टअप दूर से तो यह बहुत ही ग्लैमरस भरा होता है, लेकिन हकीकत में यह बेहद मुश्किल कार्य है। इसलिए जबतक आप इसके लिए सुनिश्चित न हों, तबतक कदम न रखें। डेज कंपीट कंपनी के फाउंडर अंकित अग्रवाल ने डर से जीतने का तरीका बताया। कहा कि हमेशा कुछ नया करने की सोच होनी चाहिए। दूसरों से सीखना चाहिए। आस-पास हो रहीं गतिविधियों का आकलन करना चाहिए और फिर आइडिया जनरेट करना चाहिए।

युवा को स्टार्टअप से जुड़ना चाहिए

बालाजी विश्वनाथन ने कहा कि उत्पादन के क्षेत्र में ज्यादा काम करने से रोजगार बढ़ेंगे और देश की अर्थव्यवस्था भी सुधरेगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ तकनीकों के सुधार पर भी सुधार करने की जरूरत है। हमें सॉफ्टवेयर से हटकर भी तकनीकों पर सोचने की जरूरत है। वर्तमान समय में ज़्यादातर युवा नौकरी को लेकर परेशान रहते हैं. युवाओं को स्टार्टअप की दुनिया को समझकर उससे जुड़ना चाहिए।

Comments are closed.