Uttar Pradesh चुनाव के लिए सतर्क हुई बीजेपी; देर रात तक चली High level Meeting

Uttar Pradesh Elections 2021: देर रात तक चली बीजेपी की हाई लेवल मीटिंग

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | News Desk | Uttar Pradesh Elections 2021: BJP Uttar Pradesh कोरोना की दूसरी लहर से उत्पन्न हुई चुनौतियाँ और हाल ही में पंचायत और बाकी राज्यों में विधान सभा चुनावों में मिली हार से भाजपा के खेमे में काफी हलचल मचने लगी है। आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा (Uttar Pradesh Elections 2021) चुनावो के लिए तैयारियां तेज़ होती नज़र आ रही है। रविवार को भाजपा कार्यालय में शीर्ष स्तर पर कई दौर की बैठके हुई और प्रदेश के लिए नयी रणनीति बनायी गयीं।

बिहार के गाँव में मुस्लिमों ने मचाया कहर; Dalit बस्ती पर किया हमला

उत्तर प्रदेश के लिए सचेत | BJP Preparing for Uttar Pradesh

इस बैठक को ज़रूरी इसलिए समझा जा रहा है क्योकि इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, ग्रह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे.पी.नड्डा, संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले और राज्य के संगठन मंत्री सुनील बंसल न हिस्सा लिया। आरएसएस और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने अगले साल यूपी में चुनाव पर चल रहे कोविड संकट के प्रभाव और राज्य में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए पार्टी द्वारा अपनाई जाने वाली रणनीति पर चर्चा की। यह मीटिंग उस वक़्त हो रही है ऐसे समय में हुई है जब उत्तर प्रदेश सरकार की कोविड -19 महामारी से निपटने के लिए काफी आलोचना हो रही है। न केवल विपक्ष, बल्कि सत्तारूढ़ भाजपा के सदस्यों ने भी योगी आदित्यनाथ द्वारा कोरोनोवायरस महामारी की दूसरी लहर से निपटने पर सवाल उठाया है।

READ:  Who will be the next CM of Uttar Pradesh?

गंगा में बहते शवों ने भाजपा की पूरी छवि को बिगाड़ दिया है, इस मामले ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक सुर्खियां बटोरी। देश की सबसे ज़्यादा आबादी वाला ये राज्य राजनीतिक स्तर से काफी महत्वपूर्ण है। बंगाल में अपना पूरा ज़ोर लगा देने के बाद भी मिली हार से भाजपा सतर्क हो गयी है। अध्यक्ष नड्डा ने पहले भी अपने सभी कार्यकर्ताओ से अपील की थी कि वह ज़मीनी स्तर पर जा कर सभी की सहायता करने का प्रयास करें।

‘थप्पड़ मार’ Collector Ranbir Sharma को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हटाया

भाजपा नेतृत्व ने कार्यकर्ताओं से सरकारी अस्पतालों में दवा, अस्पताल के बिस्तर और ऑक्सीजन की आपूर्ति की व्यवस्था करने को भी कहा है। श्री नड्डा के पत्र ने भाजपा कार्यकर्ताओं को पार्टी के आदर्श वाक्य, ‘सेवा ही संगठन’ को याद दिलाते हुए सभी से मदद करने का आवाहन दिया। रविवार को देर रात तक चली बैठक में कोरोना से निपटने के लिए हर प्रकार के रास्तों पर चर्चा हुई। इस पूरे वाक्य के दौरान होसबोले ने संघ से मिली जानकारी को भी नेताओं तक पहुंचाया।
पंचायत चुनाव में मिली हार पर भी चर्चा हुई।

READ:  Hate speech against minorities in Uttar Pradesh concerning: USCIRF

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: