Home » HOME » उत्तर प्रदेश उपचुनाव : इन 7 सीटों पर 3 नवंबर को होगा मतदान

उत्तर प्रदेश उपचुनाव : इन 7 सीटों पर 3 नवंबर को होगा मतदान

उत्तर प्रदेश उपचुनाव : इन 7 सीटों पर 3 नंबर को होगा मतदान
Sharing is Important

उत्तर प्रदेश उपचुनाव : देश के कई राज्यों में उपचुनाव होने जा रहे हैं। मध्य प्रदेश का उपचुनाव काफी अहम और दिलचस्प माना जा रहा है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में 7 सीटों पर उपचुनाव के लिए 3 नवंबर को वोटिंग होगा। वहीं 10 नवंबर को मतगणना होगी और इसी दिन नतीजे घोषित किए जाएंगे। रामपुर की स्वार सीट पर अभी उपचुनाव नहीं होगा।

एक सीट एसपी, 6 सीटें बीजेपी के पास हैं। जिन 7 सीटों पर उपचुनाव होना है, उनमें एक जौनपुर की मल्हनी सीट समाजवादी पार्टी के पास हैं। बाकी छह सीटें बीजेपी के पास है। इनमें से दो सीटें प्रदेश सरकार के मंत्रियों के निधन से खाली हुई हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया व उनके सचिव पर चुनाव के टिकट बेचने का आरोप !

जिन सीटेों पर उपचुनाव होना है- वेस्टर्न यूपी- टूंडला (फिरोजाबाद), बुलंदशहर, नौगांवा सादात (अमरोहा) सेंट्रल यूपी- घाटमपुर (कानपुर नगर), बांगरमऊ (उन्नाव) ईस्ट यूपी- मल्हनी (जौनपुर), देवरिया सदर

रामपुर की स्वार सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां के पुत्र अब्दुल्ला आजम जीते थे। उन्नाव की बांगरमऊ से भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नेता कुलदीप सिंह सेंगर जीते थे। बलात्कार के एक मामले में उम्र कैद की सजा मिलने के कारण उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द हुई थी, जिससे यह सीट खाली हुई।

READ:  Jharkhand and Uttar Pradesh are poorest states in India: NITI Aayog

कैलाश विजयवर्गीय बोले- अभी कई नेता कांग्रेस से बीजेपी में आने वाले हैं

फिरोजाबाद की टूंडला सीट भारतीय जनता पार्टी के डॉ. एसपी सिंह बघेल के सांसद निर्वाचित होने के बाद इस्तीफा देने से खाली हुई है। न्यायालय में विवाद लंबित होने के कारण यहां अब तक उप-चुनाव नहीं हुआ था।

कानपुर की घाटमपुर सीट भारतीय जनता पार्टी की कमल रानी वरुण और अमरोहा की नौगावां सादात भारतीय जनता पार्टी के चेतन चौहान की कोरोना संक्रमण से निधन होने की वजह से रिक्त हुई है। कमला रानी और चेतन चौहान दोनों योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री भी थे।

शिवराज सरकार के कार्यकाल में हुए 3 बड़े घोटाले, मुख्यमंत्री पर भी लगे थे गंभीर आरोप

इसके अलावा जौनपुर के मल्हनी क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के पारसनाथ यादव जीते थे। लंबी बीमारी के कारण बीते दिनों उनका निधन होने के कारण यह सीट रिक्त हुई है। देवरिया सदर से भारतीय जनता पार्टी के जन्मेजय सिंह और बुलंदशहर से भारतीय जनता पार्टी के वीरेंद्र सिरोही के निधन के चलते दोनों सीटें रिक्त हुई हैं।

READ:  Why Justice For Altaf is trending? What's the matter

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Scroll to Top
%d bloggers like this: