Home » बदायूं में 50 वर्षीय महिला का गैंगरेप, गुप्तांग में डाली गई रॉड, हत्या कर घर के सामने फेंकी लाश

बदायूं में 50 वर्षीय महिला का गैंगरेप, गुप्तांग में डाली गई रॉड, हत्या कर घर के सामने फेंकी लाश

uttar pradesh badaun gangrape: woman gangraped murder like nirbhaya in badaun district up
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

uttar pradesh badaun gangrape: woman gangraped murder like nirbhaya in badaun district up: उत्तर प्रदेश के बदायूं में एक महिला के साथ निर्भया जैसी हैवानियत और गैंगरेप का मामला सामने आने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है। मामला बदायूं जिले के अंतर्गत आने वाले उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव की है जहां पूजा करने गई 50 वर्षीय आंगनबाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के गुप्तांग में रॉड जैसी कोई चीज डालने का मामला सामने आया है। इतना ही नहीं उसकी बाईं पसली, बायां पैर और बायां फेफड़ा भी वजनदार प्रहार से क्षतिग्रस्त कर दिया गया और शरीर पर कई जगह गंभीर चोट भी आई है। (uttar pradesh badaun gangrape: woman gangraped murder like nirbhaya in badaun district up)

पोस्टमार्ट रिपोर्ट में पता चला है कि महिला की मौत की वजह अधिक रक्तस्राव और सदमा लगने से हुई है। इस मामले में परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने इस हैवानियत को अंजाम देने के आरोप महंत बाबा सत्यनारायण समेत उसके एक चेले वेदराम और ड्राइवर जसपाल के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मामला दर्ज किया और आरोपियों की छानबीन शुरू कर दी है। हांलाकि आरोपियों को पकड़ने में पुलिस अब तक नाकाम है। (uttar pradesh badaun gangrape: woman gangraped murder like nirbhaya in badaun district up)

READ:  कोरोना: इन पांच लक्षणों को अनदेखा न करें, ये जानलेवा साबित हो सकते हैं

हाथरस गैंगरेप केस: दुनिया के वो 5 देश जहां रेप की सबसे क्रूरतम सजा दी जाती है

मंहत ने घर के सामने फैंकी महिला की लाश
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उघैती थाना क्षेत्र केअंदर्गत आने वाले एक गांव की रहने वाली महिला रोज की तरह मंदिर में पूजा-अर्चना करने गई थी। लेकिन काफी देर तक वह नहीं लौटी। परिजनों ने खोजबीन शुरू की लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चला। देर मंदिर का महंत सत्यनारायण अपनी बोलेरो से उसका शव घर के दरवाजे पर फेंककर चला गया। शुरूआती जांच में ये भी सामने आया है कि इससे पहले आरोपी महंत उसे अपनी गाड़ी से इलाज के लिए चंदौसी भी ले गया था।

मामला सुनना तो दूर पुलिस ने परिजनों को चलता कर दिया
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने मामले में ढील दी नहीं तो आरोपी तुरंत गिरफ्तार कर लिए जाते। परिजनों ने सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या का आरोप लगाया लेकिन उघैती के थानेदार रावेंद्र प्रताप सिंह ने न तो मामला सुनना जरूरी समझा और न ही घटनास्थल पर जाके जांच-पड़ताल की। घटना के एक दिन बाद सोमवार दोपहर करीब 18 घंटे बीत जाने के बाद महिला का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया गई। इस दौरान महिला डॉक्टर समेत तीन डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमार्टम किया। इसके बाद शाम को जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो इसमें कई सनसनीखेज खुलासे हुए। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि महिला के प्राइवेट पार्ट में गंभीर घाव थे और उसका काफी खून भी बह चुका था। उसके गुप्तांग में लोहे की रॉड ठूंसे जाने की बात भी सामने आई है।

READ:  Covid-19: Dead bodies piled up outside a crematorium in Ghaziabad

हाथरस गैंगरेप केस: पीड़िता के पिता की छाती पर DM ने मारी लात, घर वालों का मोबाइल छीनकर बनाया बंधक

पोस्टमार्टम रिपोर्ट देख पुलिस भी हक्का-बक्का
पोस्टमार्टम रिपोर्ट देख अधिकारी भी हक्का बक्का हैं। इसमें मंदिर के महंत सत्यनारायण और उसका चेला वेदराम और ड्राइवर जसपाल को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है लेकिन अब तक कोई ठोस सफलता मिलती नहीं दिखी। इस मामले में एसएसपी संकल्प शर्मा ने कहा कि उघैती थाना क्षेत्र में लगभग 50 वर्षीय महिला का शव मिला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और परिजनों की तहरीर पर तीन लोगों के खिलाफ हत्या व दुष्कर्म का मुकदमा लिखा गया है। नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की चार टीमें लगाई गई हैं। जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

READ:  मोदी सरकार की 10 गलतियां जिनसे भारत में प्रलय बन गया कोरोना

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।