ट्रंप और बाइडेन

Donald Trump या Joe Biden, आख़िर कौन है भारतीयों की पहली पसंद ?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Donald Trump या Joe Biden : पूरी दुनिया पर असर रखने वाले अमेरिका में सत्ता किसके हाथ में रहेगी। इस पर सारी दुनिया की निगाहें टिकी हुई हैं। अमेरिका की जनता मौजूद राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को मौका देगी या फिर दो बार अमेरिका के उप राष्ट्रपति रह चुके डेमोक्रेट प्रत्याशी जो बाइडेन अमेरिका की जनता की पसंद बनेंगे ।

चुनाव प्रचार के दौरान दोनों ही प्रत्याशियों, चाहे वो राष्ट्रपति ट्रंप हो या डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन हो, उन्होंने भारतीय वोटर्स के साथ के लिए हरसंभव प्रयास किया। जानकारों ने कहा है कि इस चुनाव में कोई भी जीते, इससे अमेरिका और भारत के संबंधों पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है।

ALSO READ:  Joe Biden and Kamala Harris deliver victory speeches

अमेरिका के इतिहास का सबसे विभाजनकारी चुनाव, नतीजों के बाद हिंसा का डर

अमेरिका का चुनाव परिणाम भारत के आर्थिक और कूटनीतिक परिदृश्यों के लिए काफी अहम है। अमेरिका और भारत के संबंध हमेशा से अच्छे रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोस्ती पूरी दुनिया में मशहूर है। ट्रंप और मोदी की जोड़ी कई बार विभिन्न मंचों पर एक साथ नजर आ चुकी है।

बाइडेन की कोर टीम में भारतीयों की बड़ी संख्या है। उनकी तरफ से उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस (Kamala Harris) भारतीय मूल की हैं तो बाइडेन के दो प्रमुख सलाहकार भी भारतीय मूल के हैं। इसके अलावा बाइडेन चुनाव के दौरान कह चुके हैं, ‘भारत के साथ मजबूत संबंधों को ओबामा-बाइडेन प्रशासन ने हमेशा प्राथमिकता दी।

ALSO READ:  Congratulations to Joe Biden and Kamala Harris here is how world reacts

क्यों खास है भारत की भागीदारी ?

  • अमेरिका में भारतीय मूल के 40 लाख लोग हैं। जिनमें 20 लाख वोटर हैं। अमेरिका के एरिजोना, फ्लोरिडा, जॉर्जिया, मिशिगन और टेक्सास समेत 8 सीटों पर भारतीयों के वोट काफी असरदार हैं। सियासी तौर पर यहां भारतीय मूल के लोग ताकतवर हैं।
  • कुल 5 सांसद भारतीय मूल के हैं, अमेरिका में कुल 12 % भारतीय वैज्ञानिक हैं। NASA में 36% वैज्ञानिक भारतीय हैं। जबकि 38% डॉक्टर भारतीय हैं। अमेरिका की बड़ी Technology कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के 34% कर्मचारी भारतीय मूल के हैं।
  • इसके अलावा XEROX में भी भारतीयों का कब्जा है और यहां 13% भारतीय काम करते हैं। आईबीएम के कर्मचारियों में भारतीय मूल की संख्या 28% हैं। इस लिहाज से भारत के लिए अमेरिका चुनाव और अमिरका के लिए भारतीय मायने रखते हैं।
ALSO READ:  US Election: Trump or Biden, Who Will Win Easier

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups