Rapid Test Kit Testing coronavirus uttar pradesh

Love Jihad: लव जिहाद पर योगी सरकार का अध्यादेश, जानिए कुछ मुख्य बातें

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मंगलवार को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लव जिहाद(Love Jihad) पर एक अध्यादेश लेकर आयी जिसमें शादी के लिए धर्म परिवर्तन एक अपराध होगा। और राज्यपाल की मंज़ूरी मिलने के बाद अब यह कानून बन गया जिसमें लव जिहाद(Love Jihad) करने पर 10 साल तक की सज़ा का प्रावधान किया गया है। आज कल लव जिहाद की चर्चा चारों तरफ हो रही है , कई बीजेपी शासित राज्य इस पर कानून बनाने जा रहे है लेकिन उत्तर प्रदेश पहला ऐसा राज्य है जिसनें मंगलवार को लव जिहाद के ख़िलाफ अध्यादेश को मंज़ूरी दी।

IAS Tina Dabi Divorce: टीना डाबी Love Jihad का शिकार हुईं, हिन्दू महासभा ने कही ये बात

READ:  Sensex Nifty Today: market open on heavy downfall, Sensex plunges 487 points

अध्यादेश की मंज़ूरी भले ही मंगलवार को दी हो लेकिन इसकी शुरुआत 20 नवंबर को हो गई थी जब राज्य के गृह विभाग ने विधि एंव न्याय विभाग को एक प्रस्ताव भेजा गया था जिसमें कहा गया था ऐसे मामलों में गैर ज़मानती धाराओं में केस दर्ज होना चाहिए ।

Other side of ‘Love Jihad’: 8 Muslim actresses who married Hindu actors

इस अध्यादेश की कुछ मुख्य बातें:

• लव जिहाद के खिलाफ अध्यादेश में कहा गया है कि झूठ बोलकर, गुमराह कर, लालच देकर या फिर शादी या दबाव देकर धर्म परिवर्तन का दोषी साबित होने पर 15 जुर्माने के साथ 1 से 5 साल की सजा ।
• कोई महिला जो SC \ ST कैटेगरी में आती है उसका झूठ बोलकर या जबरन धर्म परिवर्तन कराने पर 25 हजार जुर्मानें के साथ 3 से 10 साल की सजा ।
• और सामूहिक धर्म परिवर्तन के मामलें में भी 50 हजार जुर्मानें के साथ 3 से 10 साल की सजा
• धर्म परिवर्तन के लिए होने वाली शादियां भी इस अध्यादेश के दायरे में है और दोषी पाये जाने पर 1 से 10 साल की सजा
• लव जिहाद के मामले में मदद करने वाला भी मुख्य आरोपी बनाया जाएगा
• अध्यादेश में ये भी कहा गया है कि अगर कोई अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन करना चाहता है तो उसे DM को 2 महीने पहले सूचना देनी होगी । ऐसा नही करने पर 10 रुपए जुर्मानें के 6 महीने से 3 साल की सजा।

READ:  भाजपा के सांसदों ने शराब की दुकानें खोलने पर अपनी ही सरकार का किया कड़ा विरोध

Love Jihad’ Bill in Madhya Pradesh soon, five years jail for violators

आपको बता दें कि योगी सरकार यह लव जिहाद(Love Jihad) अध्यादेश तब लेकर आयी जब एक दिन पहले सोमवार को धर्म बदल कर शादी करने के एक मामले की सुनवाई के दौरान इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस पंकज नकवी और जस्टिस विवेक अग्रवाल ने कहा था कि “ किसी को भी अपनी पसंद के व्यक्ति के साथ रहने का पूरा अधिकार है, चाहे वह किसी धर्म का मानने वाला हो , यह उसकी निजी स्वतंत्रता का मूल तत्व है.”

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at [email protected] to send us your suggestions and writeups.