'आठ दिसंबर को भारत बंद'

Bharat Bandh: किसानों के समर्थन में ट्राइबल आर्मी का आव्हान, कल रहेगा भारत बंद

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Bharat Bandh: कृषि क़ानून के ख़िलाफ़ किसानों के प्रदर्शन का आज 9वां दिन है। किसानों की मांग है इस क़ानून को पूरी तरह सरकार वापस ले। इसी बीच ट्राइबल आर्मी(Tribal Army) ने कल ये आव्हान किया कि अन्नदाता किसान के समर्थन में 5 दिसम्बर को भारत बंद(Bharat Bandh) रहेगा। भारत बंद के दो हैशटैग ट्विटर पर टॉप ट्रेंड्स में हैं। ये हैशटैग हैं #5दिसंबर_भारत_बंद और #कल_किसानों_का_भारतबंद_रहेगा

पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान दिल्ली के लगभग सभी बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं। शुरूआती दिनों में पंजाब से आने वाले किसानों पर हरियाणा सरकार ने वाटर कैनन और टियर गैस से रोकने की कोशिश की थी। लेकिन सरकार नाकामयाब रही और किसानों का काफिला राजधानी की ओर बढ़ता गया।

READ:  IAS Tina Dabi Divorce: टीना डाबी के जन्म से लेकर IAS बनने तक और शादी से लेकर तलाक तक पढ़ें 10 किस्से

Vigyan Bhavan: ‘नहीं खाएंगे सरकारी खाना’, किसानों ने ठुकराया मंत्रियों का लंच ऑफर

ट्राइबल आर्मी(Tribal Army) ने ट्वीट कर Bharat Bandh की जानकारी दी

ट्विटर पर उठी मांग ‘Kangana Ranaut को माफ़ी मांगनी चाहिए’

उधर ट्राइबल आर्मी(Tribal Army) के संस्थापक हंसराज मीणा ने अपने समर्थकों से भारत बंद का समर्थन करने को कहा।

सरकार के कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ Prakash Singh Badal ने लौटाया अपना पद्म विभूषण सम्मान

READ:  हींग की खेती से आत्मनिर्भर बनेगा भारत, बचेंगे देश के 900 करोड़ रुपए

इन कानूनों के विरोध कल यानी 4 दिसंबर को विज्ञान भवन में किसानों और सरकार के बीच बैठक हुई थी। यह बैठक करीब आठ घंटे चली जिसमें केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra singh Tomar) और रेल मंत्री पियूष गोयल मौजूद रहे। कृषि मंत्री बैठक के बाद बताया कि बातचीत काफी गंभीर रूप से हुई, जिसमें किसानों ने कई मांगे सरकार के सामने रखीं। कृषि मंत्री ने जानकारी देते हुए कहा कि किसानों के साथ इस मुद्दे पर ये चौथी बैठक थी और अगली बैठक शनिवार दोपहर 2 बजे फिर से होगी। और कृषि मंत्री का अनुमान है कि शनिवार की बैठक में किसी नतीजे तक पहुंचने की उम्मीद है। हालांकि किसानों ने अभी तक प्रदर्शन समाप्त करने की बात नहीं की है।

READ:  आज से HRD Ministry का नाम होगा शिक्षा मंत्रालय, 4 खास बातें

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at [email protected] to send us your suggestions and writeups.