हल्दीराम विवाद : हिंदुओं का सबसे बड़ा दुश्मन एक जाहिल हिंदू है : संकेत उपाध्याय

देश में मुसलमानों से नफ़रत का स्तर इतना बढ़ता जा रहा है कि लोग किसी भी हद तक जानें को तैयार हैं। हिजाब,मीट बैन,आर्थिक बहिष्कार से लेकर रोज़ किसी न किसी तरीके से इस देश में बसने वाले मुसलमानों को टारगेट कर उन्हें ऐसा एहसास कराया जा रहा है, जैसे कि वे इस देश के नागरिक ही न हों।

अब एक नया विवाद जो सामने आया है। वो देश की जानी-मानी कंपनी हल्दीराम की पैंकिंग में यूज़ की गई अरबी भाषा को लेकर है। दरअसल लोकप्रिय भारतीय मिठाई, रेस्तरां और स्नैक्स कंपनी हल्दीराम के एक रेस्तरां का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पिछले कुछ घंटों से ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है।

वीडियो में नफ़रत और हिंसा फैलाने वाले न्यूज़ चैनल सुदर्शन की एक महिला टीवी रिपोर्टर को रेस्तरां के कर्मचारियों के साथ स्नैक्स के पैकेट पर बहस करते देखा जा सकता है और रिपोर्टर पैकेट पर छपी “URDU” भाषा के पीछे का कारण लगातार पूछ रही है। जबकि पैकेट पर उर्दू भाषा नहीं बल्कि अरबी भाषा का उपयोग किया गया है। हल्दीराम अपने प्रोडक्ट दुनियाभर के देशों में भेजती है। हल्दीराम के प्रोडेक्ट अरब देशों में भी जाते हैं। इस कारण बहुत से सामानों पर अन्य भाषाओं के साथ अरबी का भी इस्तेमाल किया गया।

लाइव सेशन में कॉलर ने इमरान खान को बंदर,भगोड़ा और बेशर्म कह डाला;देखें वीडियो

इस विवाद के सामने आने के बाद लोग सोशल मीडिया पर अपनी-अपनी बात रख रहे हैं। वहीं, देश के जान-माने एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार संकेत उपाध्याय ने इस मामले पर सबसे तीखा ट्वीट लिखा- उन्होंने कहा, ‘’हिंदुओं का सबसे बड़ा दुश्मन एक जाहिल हिंदू है और कोई नहीं।‘’

अब विवाद के बाद से इंटरनेट पर हल्दीराम ट्रेंड कर रहा है और नेटिज़न्स इस प्रवृत्ति के पीछे का कारण जानना चाहते हैं। खैर, कंपनी द्वारा बेचा जाने वाला एक उत्पाद या स्नैक देश में कई दुकानों पर उपलब्ध है और लोग यह जानने का आग्रह कर रहे हैं कि कंपनी ने पैकेट का विवरण उर्दू भाषा में क्यों छापा है। नफरती लोग इस बात से अवगत नहीं कि जिसे वो उर्दू बता रहे असल में वो अरबी है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitterInstagram, and Whatsapp and Subscribe to our YouTube channel. For suggestions and writeups mail us at GReport2018@gmail.com