तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पुलिस कस्टडी में पिता-पुत्र की मौत की CBI करेगी जांच

तूतीकोरिन केस: CBI करेगी पिता-पुत्र की मौत की जांच
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पुलिस की बर्बरता के कारण एक पिता और उसके बेटे की मौत की घटना का मामला अब बढ़ता नज़र आ रहा है । पुलिस हिरासत में पिता और बेटे की मौत की घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। विवाद बढ़ता देख राज्य के मुख्यमंत्री के पलानीसामी ने पुलिस कस्टडी में मौत की जांच सीबीआई को देने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री पलानीसामी ने कहा कि मद्रास उच्च न्यायालय से मंजूरी मिलने के बाद मामला सीबीआई को हस्तांतरित किया जाएगा।

क्या है पूरा मामला

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पिता-पुत्र दोनों को 19 जून को लॉकडाउन के दौरान अपनी मोबाइल एसेसरीज की दुकान को खुला रखने के कारण सथानकुलम पुलिस इन्हें पूछताछ के लिए ले गई थी। हिरासत में रहने के दौरान पुलिस ने उनके साथ क्रूरता की, जिससे उनकी मौत हो गई। बेटा बीमार हो गया और 22 जून को कोविलपट्टी जनरल अस्पताल में उसकी मौत हो गई और फिर अगले दिन उसके पिता की 23 जून की सुबह मृत्यु हो गई।

READ:  पहली बार राम मंदिर के निर्माण के बाद हो रही है श्रीराम रन , 52 देशों के लोग लेंगे हिस्सा

Also Read : ब्रिगेडियर मोहम्मद उस्मान जिससे पाकिस्तानी सेना खौफ खाती थी

इस मामले में डॉक्टर की रिपोर्ट में दर्ज टिप्पणियां इस बात की ओर संकेत करती हैं कि दोनों को काफी शारीरिक यातनाएं दी गईं । तूतीकोरिन में हिरासत में जयराज (59) और उनके बेटे बेनीक्स (31) की मौत मामले में पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की जा रही है। जयराज की पत्नी ने आरोप लगाया है कि उनके पति और बेटे को अपमानित किया गया और उन्हें यातनाएं दी गईं, जिससे उनकी मौत हो गई।

कमल हासन सरकार पर हुए हमलावर

कमल हासन ने मुख्यमंत्री के पलानीसामी को मामले का ‘मुख्य आरोपी’ बताया। कमल हासन और तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने आज पीड़ित परिवार से बात की। कमल हासन ने कहा कि, ‘सरकार और मुख्यमंत्री जो पुलिस हत्याओं का आंख बंद करके समर्थन करते हैं, वे भी मुख्य आरोपी हैं। उन्होंने कहा कि इस अपराध को छुपाने की कोशिश करने वालों को सजा दी जानी चाहिए।’ कमल हासन ने कहा, पुलिस के अतिवादी रवैये का समर्थन कर तमिलनाडु सरकार आतंकवाद की अनुमति देती है।’

READ:  पहली बार राम मंदिर के निर्माण के बाद हो रही है श्रीराम रन , 52 देशों के लोग लेंगे हिस्सा

Also Read : शाहिद आज़मी : जेल में बंद बेकसूर मुस्लमानों का मुक़दमा लड़ने के चलते मार दी गई थी गोली

पुलिस की बर्बरता पर बॉलीवुड के स्टार्स कई स्टार्स ने भी प्रतिक्रियाएं दी हैं । तापसी पन्नू, रितेश देशमुख, जेनेलिया डीसूजा, वीर दास और प्रियंका चोपड़ा ने पुलिस की क्रूरता के खिलाफ आवाज उठाते हुए न्याय की मांग की है। सभी ने इस खबर की निंदा करते हुए पुलिस की इस हरकत को अमानवीय बताया। साथ ही कहा इस पिता-पुत्र के गुनाहगारों को सजा मिलनी चाहिए।

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।