चेन्नई : गाय के पेट से निकाला 52 किलो प्लास्टिक-कचरा, पेंच-सिक्के

Ground Report | Chennai

तमिलनाडू में एक गाय की पांच घंटे तक सर्जरी चली। इस दौरान गाय के पेट से करीब 52 किलो ग्राम प्लास्टिक और कचरा निकाला गया। डॉक्टरों के मुताबिक के पेट में ये प्लास्टिक पिछले 2 साल से धीरे-धीरे जमा हो रहा था। प्लास्टिक को गाय पचा नहीं पा रही थी और ये कचरा गाय के पेट के एक हिस्से में जमा हो गया था।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, तमिलनाडु स्थित वेटेरिनरी ऐंड ऐनिमल साइंसेज यूनिवर्सिटी के सर्जनों ने गाय के पेट से कुल 52 किलो प्लास्टिक का कचरा निकाला। इतना ही नहीं करीब साढ़े पांच घटें चली इस सर्जरी में गाय के पेट से प्लास्टिक के अलावा दो पेंच और एक सिक्का निकाला गया है।

इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए तमिलनाडु वेटेरिनरी ऐंड ऐनिमल साइंसेज यूनिवर्सिटी के डॉक्टर वेलावन ने बताया कि, गाय के पेट के 75 प्रतिशत हिस्से में सिर्फ प्लास्टिक भरा हुआ था। प्लास्टिक या इस प्रकार का कचरा पेट में इकट्टा हो जाने से जानवरों को पेट में असहनीय दर्द होता है और उन्हें खाना पीना खाने और मल-मूत्र का त्याग करने में समस्या होती है।

Also Read:  Why Justice for Kavipriya is trending; what's the whole matter?

वहीं गाय के मालिक मुनीरत्नम ने बताया कि, गाय पिछले कई दिनों से खाना ठीक से नहीं खा रही थी साथ ही उसे मल-मूत्र त्यागने में भी दिक्कत हो रही थी। वह दर्द के चलते अपने पेट पर लात मारने की कोशिश कर रही थी।

मुनीरत्नम ने इसके बाद बताया कि, जब हमें ये बात समझ आई कि उसे पेट में दर्द है तो हम फौरन स्थानीय पशु चिकित्सालय पहुंचे। शुरूआती जांच के बाद डॉक्टरों ने हमें चेन्नई जाने के लिए कहा। यहां डॉक्टरों ने एक्सरे और अल्ट्रा साउंड किया और पाया कि गाय के पेट में कचरा है जिसके बाद उसका ऑपरेशन किया गया।

Tamil Nadu Veterinary and Animal Sciences University के डॉक्टरों की टीम में डॉ. बालासुब्रमण्यम, क्लिनिक निदेशालय, सर्जरी के सहायक प्रोफेसरों डॉ. शिवशंकर और डॉ. वेलवन के अलावा अन्य वरिष्ठ सर्जनों ने साथ मिलकर ने मिलकल गाय की सफलता पूर्वक सर्जरी की।