Home » Taliban’s update : इमरान खान बन रहे थे तालिबान के हमदर्द, तालिबान ने कही ऐसी बात कि इमरान रह गए हक्के-बक्के!

Taliban’s update : इमरान खान बन रहे थे तालिबान के हमदर्द, तालिबान ने कही ऐसी बात कि इमरान रह गए हक्के-बक्के!

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Afghanistan news : यूं तो पाकिस्तानी प्रधानमन्त्री इमरान खान(Pakistan PM imran Khan) वैसे ही तालिबान(taliban) के मुद्दे को लेकर काफी चर्चा में हैं। वे जब देखो तब तालिबान(taliban) का पक्ष लेते मिलते हैं। ऐसे में जब तालिबान(taliban) की बात आई पाकिस्तान(pakistan) के लिए दो शब्द कहने की तो तालिबान(taliban) ने कुछ यूं अपने लफ्ज़ों से बयां किया जिसे सुनकर खुद इमरान(pakistan PM imran Khan) के कानों से भी खून निकलने लगा होगा। आइए बताते हैं क्या कहा तालिबानी नेता मुबीन ने –

मुबीन ने पाकिस्तान को संबोधित करते हुए कहा – इमरान खान अफगानिस्तान में समावेशी सरकार चाहते हैं। उन्हें जनता ने पीएम नहीं चुना है और हमें सलाह दे रहे हैं। पाकिस्तान के लोग कहते हैं कि वह पाकिस्तानी सेना के कठपुतली हैं। इमरान खान की सरकार में पश्तून सहित सारे अल्पसंख्यक समुदायों के साथ बुरा सलूक किया जा रहा है। पाकिस्तान को अफगानिस्तान में समावेशी सरकार क्यों चाहिए? ताकि वह अपने जासूस और कठपुतली अफगानिस्तान में भर सके। ऐसा नहीं हो सकता। आप मानें या न मानें लेकिन मौजूदा सरकार समावेशी है।

International news : क्या है हवाना सिंड्रोम? जिसमे कोरोना के खत्म होने से पहले ही पसारे अपने पांव!

मुबिन ने लगाए तारीफों में चार चांद

अपनी बात को पूरी करते हुए मुबीनने कहा पाकिस्तान का बुरा हाल है और ऐसे में इमरान खान को चाहिए कि वह अपने देश पर ध्यान दें। वहां के लोगों की बेहतरी के लिए काम करें। हम पाकिस्तान की संप्रभुता का सम्मान करते हैं और पाकिस्तान से भी यही चाहते हैं।

READ:  लखीमपुर मामले पर सुप्रीम कोर्ट में आज क्या कुछ हुआ?

पाकिस्तानियों ने जताई सोशल मीडिया पर नाराजगी

जब बात इतनी बढ़ गई कि जहां एक तरफ इमरान खान सभी से बैर लेकर तालिबान का साथ दे रहे हैं। वहीं जब बदले में तालिबान द्वारा ऐसी प्रतिक्रिया मिली तो पाकिस्तानी भी चुप नहीं बैठे और सोशल मीडिया को जरिया बना लिया अपनी भड़ास निकालने का। इसके बाद में ट्वीट्स और पोस्ट का सिलसिला शुरू हो गया जिसमे तालिबानियों पर काफी तंज कसते हुए पाकिस्तानियों ने भी अपनी भड़ास निकाली।

Covishield vaccine approved in Britain : ब्रिटेन ने कोविशील्ड को दी मंजूरी, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को लेकर अभी भी फंसा दांव

पाकिस्तान ने हमेशा किया तालिबान का सपोर्ट

अभी कुछ ही समय पहले आई खबर में जब सार्क की मीटिंग होनी थी तब भी इमरान खान ने तालिबान का पक्ष रखते हुए उसके अफ़गानिस्तानी कुर्सी के जगह देने की अपील की थी जिसके बाद सभी उनके विरोध में उतर आए थे। साथ ही जब तालिबान में आई विपदाओं की वजह से जब वहां खाने को भी लाले पड़े थे तब वे इमरान खान ही हैं जिन्होंने मदद करने के लिए चंदे का हाथ बढ़ाया था। जैसा कि हम सब जानते है कि पाकिस्तान के पास खुद का पेट भरने का भी नहीं है लेकिन जब तालिबान की बात आई तो भी उसने वही किया जो हमेशा अपने लिए करता है। इमरान ने अपने एक बयान में कहा था कि यदि अफ़ग़ानिस्तान विपदाओं को झेल रहा है तो हमारा दायित्व बनता है कि हम उसकी सहायता में आगे आएं यदि हमारे पास आए में सहायता राशि नहीं भी है तो हम चंदा इकट्ठा कर उनका सहयोग करेंगे।

READ:  International news : क्या है हवाना सिंड्रोम? जिसने कोरोना के खत्म होने से पहले ही पसारे अपने पांव!

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter, and Whatsapp. And mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups