अवसाद और हाइपोमेनिया से पीड़ित थे सुशांत: डॉ. सुसान वाकर

हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या की खबर काफी चर्चा में रही थी। इसे लेकर अब एक ओर बात सामने निकलकर आ रही है। पत्रकार बरखा दत्त को दिए एक साक्षात्कार में सुशांत सिंह राजपूत की चिकित्सक सुसान वाकर ने सुशांत की स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में बताया । वे बताती हैं, “सुशांत बाईपोलर बीमारी से पीड़ित थे। इसमें गंभीर चिंता शामिल थे। मानसिक स्वास्थ्य कैंसर या मधुमेह के लिए अलग नहीं है। लेकिन मानसिक स्वास्थ्य के को समाज में लांछन है जिसके कारण रोगियों के लिए यह इस से पार पीना मुश्किल हो जाता है।”

राममंदिर भूमिपूजन: न्यूज़ रूम बने पूजा पंडाल तो न्यूज़ एंकर पुजारी

सुसान ये भी बताती हैं कि मानसिक स्वास्थ्य पर सुशात का गोपनीयता को भंग नहीं करना चाहती थी। अब ये फैसला उन्होंने मीडिया कवरेज को देखते हुए और सोशल मीडिया पर फैलाई गई बातों के चलते लिया गया। सुसान बताती है कि रिया चक्रवर्ती सुशांत के हमेशा समर्थन में रहती थी और इस बीमारी से पार पाने के लिए उनका प्रोत्साहन करती थी।

Also Read:  Why Justice for Kavipriya is trending; what's the whole matter?

क्या है ये ‘बाईपोलर’ बीमारी ?

इस इंटरव्यू में सुसान ने बताया कि सोशल मीडिया पर रिया के लिए कहा गया वह मेरे लिए काफी चौंकाने वाला था। सुशांत अवसाद और हाइपोमेनिया बहुत पीड़ित थे। जब सुशांत गंभीर रूप से बीमार थे, तो वह रिया पर कुछ हद तक एक माँ के रूप में निर्भर थे । नवंबर 2019 में रिया और सुशांत से कई बार आकर मिलती थी। रिया ने सुशांत को अवसाद से लड़ने के लिए सेशन जॉइन करने में मदद तक की।

Ram Mandir: अयोध्या में भूमिपूजन के लिए कैसी हैं तैयारियां?

‘बाईपोलर’ एक मानसिक बीमारी है जिसके चलते मनोदशा में अत्यधिक बदलाव होते हैं। अवसाद भी इसका एक लक्षण है शामिल कर सकते हैं। यह कोई दुर्लभ बीमारी नहीं है । 2017 के अध्ययन का अनुमान है कि दुनिया में  4.6 करोड़ लोग इस बीमारी से पीड़ित हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।