Home » हंसराज बोले, निजीकरण आरक्षण को खत्म करने का एक साधन, #StopPrivatizingIndia

हंसराज बोले, निजीकरण आरक्षण को खत्म करने का एक साधन, #StopPrivatizingIndia

karnataka: The overbearing orders on the cutting of Dalit hair prompted the saloon owner to be removed from the village
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

StopPrivatizingIndia: एक्टिवसिस्ट हंसराज मीणा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर #StopPrivatizingIndia के साथ सरकार के खिलाफ फिर हल्ला बोल दिया है। हंसराज ने #StopPrivatizingIndia के साथ ट्वीट कर सरकार के कहा कि देश में प्राइवेटाइजेशन बंद करो। उन्होंने कहा कि निजीकरण से सामाजिक अन्याय होगा और एससी, एसटी, ओबीसी वर्गों को आरक्षण से वंचित किया जाएगा। #StopPrivatizingIndia

एक अन्य ट्वीट में हंसराज मीणा ने कहा कि, निजीकरण आरक्षण को खत्म करने का एक साधन है। न सरकारी नौकरी, न आरक्षण। इसलिए संविधान बचाओ भारत बचाओ। #StopPrivatizingIndia

Explained: Why #StopPrivatizingIndia trending on twitter?

READ:  Explained: Why govt. is planning to privatise public sector banks?

बता दें कि देश में तेजी से सरकारी संस्थाओं का निजीकरण किया जा रहा है। रेल्वे सहित अन्य बड़ी संस्थाएं काफी हद तक निजीकरण की भेंट चढ़ चुके हैं। हंसराज ने कहा कि, सरकार निजीकरण की आड़ में दलितों के अधिकार आरक्षण को छीनना चाहती है उसे खत्म करना चाहती है। उन्होंने एक अन्य ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कार्यशैली सवाल उठाए और उनसे उनके इस्तीफे की भी मांग की।

READ:  White fungus symptoms and remedies: ब्लैक फंगस से ज्यादा खतरनाक है वाइट फंगस, क्या है इसके लक्षण और बचाव के उपाय

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.