Home » Smart Power India ने 3 गैर सरकारी संगठनों के साथ भागीदारी कर ग्रामीणों को दी जरूरी सुविधाएं

Smart Power India ने 3 गैर सरकारी संगठनों के साथ भागीदारी कर ग्रामीणों को दी जरूरी सुविधाएं

SPI
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Smart Power India: रॉकफेलर फाउंडेशन की सहायक कंपनी स्मार्ट पावर इंडिया (Smart Power India) ग्रामीण समुदाय में अपने मिनी ग्रिड ग्राहकों और ईएससीओ कर्मचारियों को कोविड राहत प्रदान करना चाहता था| SPI: इसके लिए SPI गिवइंडिया फाउंडेशन, स्वस्थ फाउंडेशन, एका केयर के साथ जुड़ गए और उनकी मदद की।

कौन है एसपीआई(SPI)

एसपीआई(SPI) की स्थापना रॉकफेलर फाउंडेशन ने अपनी सहायक कंपनी की तरह की थी।यह फाउंडेशन के स्मार्ट पावर फॉर रूरल डेवलपमेंट प्रोग्राम को लागू करने में प्रमुख एजेंसी के रूप में कार्य करती है। एसपीआई(SPI) बिजली की पहुंच प्रदान करने के लिए टिकाऊ और स्केलेबल मॉडल को बढ़ावा देने के लिए पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण और पोषण पर काम करता है।

IFFCO ने तैयार किया विश्व का सबसे पहला लिक्विड नैनो यूरिया, दुनिया भर के किसानों होगा फायदा

SPI ने शुरू की कस्टमर वाउचर स्कीम

SPI ने 2020 में मिनी-ग्रिड ग्राहकों के लिए एक कस्टमर वाउचर स्कीम (CVS) शुरू की थी। जिसका उद्देश्य COVID-19 महामारी को देखते हुए 200 मिनी-ग्रिड गांवों में 125,000 से अधिक लोगों को फायदा पहुंचाना था। सीवीएस(CVS) ने मिनी-ग्रिड ग्राहकों को वो वाउचर 3 महीने के लिए मिनी-ग्रिड ऑपरेटर के बिजली के बिल के लिए प्रयोग करने के लिए दिया।

READ:  Social Media Platforms: भारत में बंद हो जाएंगे फेसबुक ट्विटर और इंस्टाग्राम? क्या है नया डिजिटल एथिक कोड?

माना जा रहा है कि यह योजना 200 मिनी-ग्रिड गांवों में 125,000 से ज्यादा लोगों के जीवन को प्रभावित करती है। इस साल एसपीआई(SPI) पानी लेने वाली जगहों में स्वास्थ्य देखभाल के बोझ को कम करने के लिए स्वास्थ्य संबंधी जरूरत को पूरा करने की योजना बनाने में लगी है।

किस NGO ने क्या सहयोग किया

गिव इंडिया( Give India) ने ऑक्सीजन जेनरेटर प्लांट बनाया, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स दिए, ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराए, ऑक्सीजन सिलेंडरो की रिफिलिंग कराई,  Bipaps (Non-Invasive Ventilation) वेंटिलेटर दिलवाए।

मानसिक तनाव(Mental Stress) से बचाने वाले योगासन(Yoga Asana)

स्वस्थ फाउंडेशन ने के आसपास के स्लम जगहों में रहने वाले परिवारों को राशन किट दी, मुंबई में शहरी गरीबों के लिए पुरानी स्थिति वाले लोगों के लिए व्यक्तिगत और टेलीमेडिसिन परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराई, हेल्थ एक्सपर्ट और जरूरी कर्मचारियों को पीपीई किट खरीद कर बांटी।

सीईओ जगदीप मुखर्जी ने क्या कहा

पार्टनरशिप पर बोलते हुए स्मार्ट पॉवर इंडिया(SPI) के सीईओ जगदीप मुखर्जी ने कहा कि पिछले साल हमने रूलर कम्युनिटी के अच्छे जीवन पर ज्यादा ध्यान दिया था लेकिन इस साल हमने देखा कि लोगों को ऑक्सीजन, मेडिसिन, हेल्थ सर्विस और बाकी सुविधाओं की कितनी जरूरत पड़ रही है उन्हें कमी की वजह से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि हमारा मुख्य लक्ष्य हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को ध्यान में रखकर सही करना है।

READ:  कहीं कोई कैमरा शवों की गिनती न कर ले इसलिए शवों से चुनरी और लकड़ियां हटा रही योगी सरकार: Srinivas

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.