सौरव गांगुली हो सकते हैं बीसीसीआई के नए ‘बॉस’, नियमों में बदलाव के बाद ‘दादा’ सबसे फिट

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नई दिल्ली, 12 अगस्त। रिपोर्ट- आयुष ओझा। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और धाकड़ बल्लेबाज सौरव गांगुली बीसीसीआई के नए अध्यक्ष बन सकते है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने के बावजूद सौरव गांगुली क्रिकेट से लगातार विभिन्न भूमिकाओं में जुड़े रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई के संविधान में कुछ प्रावधानों को जोड़ लोढ़ा समिति की कुछ सिफारिशों में बदलाव किए हैं। इससे सौरव गांगुली के अध्यक्ष बनने का रास्ता साफ हो गया है।

नए बदलाव की वजह से सौरव गांगुली ही अध्यक्ष पद के लिए योग्य उम्मीदवारो की अहर्ताओं को पूरा करते है जबकि बहुत से पूर्व खिलाड़ी इस बदलाव की वजह से अयोग्य हो गए है।

यह भी पढ़ें: विराट कोहली: आलोचकों का भी दिल जीतना जानता है यह खिलाड़ी

एक्सपर्ट के मुताबिक, नए बदवाल के बाद गांगुली इस पद के लिए सबसे फिट हैं और बीसीसीआई बनने का उनका रास्ता भी साफ नजर आ रहा है। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि सौरव गांगुली इस पद के लिए एकदम योग्य हैं और सभी पैमानों पर खरे उतरते हैं।

वहीं इस साल के शुरुआती दिनों में समाचार पत्र द हिन्दू के साथ बातचीत में गांगुली ने कहा था कि एक अच्छा खिलाड़ी, एक अच्छा प्रशासक बन सकता है पर ये निर्भर करता है कि वह अपना कितना समय दे पाता है जबकि एक अच्छा प्रशासक होने के किये ये बिल्कुल् जरुरी नहीं है कि वो एक अच्छा खिलाड़ी भी हो।

बता दें कि वर्तमान में दादा बंगाल क्रिकेट एसोसिएसन के अध्यक्ष के तौर पर अपने तीसरे कार्यकाल में हैं और अगर वो अपने इस पद से इस्तीफ़ा दे दें तो फिर वो बीसीसीआई के नए बॉस बनने के योग्य हो जायेंगे।

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया के धाकड़ बल्लेबाज रोहित शर्मा का T-20 क्रिकेट पर बड़ा बयान, कही ये बात

नए नियम के मुताबिक 6 साल के बाद कूलिंग ऑफ पीरियड लेने का फायदा गांगुली को हुआ है जिसकी वजह से राजीव शुक्ला और अनुराग ठाकुर अब इस पद के लिए अयोग्य है।

नए नियम के मुताबिक अब किसी भी जोन से कोई भी अध्यक्ष बन सकता है। बता दें की 46 वर्षीय सौरव गांगुली भारत के सफलतम कप्तानों में से एक है जिन्होंने 2008 में क्रिकेट के मैदान को अलविदा कह दिया था।

समाज और राजनीति की अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर फॉलो करें- www.facebook.com/groundreport.in/