सोनिया गांधी का कांग्रेस में बड़ा फेरबदल, गुलाम नबी-मल्लिकार्जुन सहित 23 नेताओं का ‘डिमोशन’!

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कांग्रेस ने अपनी सेंट्रल इलेक्शन अथॉरिटी में बड़ा बदलाव करते हुए गुलाम नबी आजाद, अंबिका सोनी, मोतीलाल वोरा और मल्लिकार्जुन खड़गे को महासचिव पद से हटा दिया है। अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा किए गए इस बदलाव के बाद 23 नेताओं को दरकिनार कर दिया गया है। कांग्रेस ने सोनिया गांधी के लिए बनाई गई सलाहकार समिति में भी आजाद को जगह नहीं मिली है। गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा सिर्फ वर्किंग कमिटी के सदस्य रहेंगे।

सोनिया गांधी का करती हूं आदर, इंदिरा गांधी पर गर्व: उमा भारती

वहीं जीतिन प्रसाद को बंगाल का प्रभारी बनाया गया। वहीं इस फेरबदल में कपिल सिब्‍बल का कद भी घट गया है। सोनिया गांधी ने पार्टी मामलों में अपनी मदद के लिए विशेष समिति गठित की जिसमें ए के एंटनी, अहमद पटेल और अंबिका सोनी, केसी वेणुगोपाल, मुकुल वासनिक और रणदीप सुरजेवाला शामिल होंगे।

READ:  Madhya Pradesh By-Elections 2020: मध्य प्रदेश में कब होंगे उपचुनाव?

मुझे लगता है सोनिया गांधी खुश हैं कि उनके राज्य में एक हिंदू संत मारा गया: अर्नब गोस्वामी

इस फेरबेदल के बाद आशा कुमारी की भी पंजाब से छुट्टी कर दी गई है। हरीश रावत अब पंजाब कांग्रेस के प्रभारी महासचिव का पद संभालेंगे। पार्टी में रणदीप सिंह सुरजेवाला का कद बढ़ा गया है। सुरजेवाला को कर्नाटक प्रभारी की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है। कांग्रेस कार्यसमिति में राहुल गांधी का कद अब भी ऊपर है। सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह के बाद उनका तीसरा स्थान है। राहुल गांधी के चहेते मधुसूदन मिस्त्री का कद बढ़ा है।

गरीबों को जून नहीं सितंबर तक मुफ्त अनाज दे मोदी सरकार : सोनिया गांधी

वहीं अरविंदर सिंह लवली का कद भी बढ़ा है। सोनिया गांधी ने पी चिदंबरम, जितेंद्र सिंह, तारिक अनवर और रणदीप सुरजेवाला का सीडब्ल्यूसी का नियमित सदस्य बनाया है। केसी वेणुगोपाल को संगठन की जिम्मेदारी दी गई है। प्रियंका गांधी को यूपी का प्रभारी बनाया गया है। कांग्रेस महासचिवों में मुकुल वासनिक को मध्य प्रदेश की, ओमान चांडी को आंध्र प्रदेश की, तारीक अनवर को केरल और लक्षद्वीप, जितेंद्र सिंह को असम और अजय माकन को राजस्थान की जिम्मेदारी दी गई है।

READ:  बीजेपी-सिंधिया के बीच 'हनीमून पीरियड' में ही शुरू हुई तू-तू मैं-मैं, टूटने की कगार पर गठबंधन!

क्या सोनिया गांधी की इजाज़त के बिना पीएम रिलीफ फंड से पैसा नहीं निकाला जा सकता?

नए सीडब्ल्यूसी सदस्य के तौर पर दिग्विजय सिंह, राजीव शुक्ला, मनिकम टैगोर, प्रमोद तिवारी, जयराम रमेश, एचके पाटिल, सलमान खुर्शीद, पवन बंसल, दिनेश कुंदुरो, मनीष चतरथ और कुलजीत नागरा को शामिल किया गया है। अब कांग्रेस के सचिव प्रभारी प्रशासन पवन कुमार बंसल होंगे। मनकीम टैगोर को तेलंगाना का प्रभारी सचिव के तौर पर नियुक्त किया गया है।

You can connect with Ground Report on FacebookTwitter and Whatsapp, and mail us at GReport2018@gmail.com to send us your suggestions and writeups.

%d bloggers like this: