कानपुर में डेंगू से चार और मौतें, अब तक 98 लोगों की डेंगू से मौत..

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report । Nehal Rizvi

कानपुर में डेंगू का प्रकोप कम होने के बजाय लगातार बढ़ता ही जा रहा है। डेंगू से होने वाली मौतों में भी लगातार इज़ाफा देखने को मिल रहा है। कानपुर में डेंगू से हुई मौतों का आकड़ा 100 के करीब पहुंच चुका है। बीते शुक्रवार को कानपुर में डेंगू के कारण 4 लोगों के मरने की सूचना है।  

हैलट इमरजेंसी में तीन और प्राइवेट हॉस्पिटलों में दो पेशेंट्स की इलाज के दौरान मौत हो गई। कल्याणपुर की 54 साल की विभा ने रावतपुर स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल में दमतोड़ दिया। जाजमऊ की 8 साल की सोनी की भी लालबंगला स्थित प्राइवेट हॉस्पिटल में मौत हो गई। उसे डेंगू की पुष्टि हुई थी परिजन उसका कांशीराम हॉस्पिटल में इलाज करा रहे थे,लेकिन हालत बिगड़ने पर प्राइवेट हॉस्पिटल ले आए।

हैलट इमरजेंसी में भी हैरिसगंज के मुनीर शेख (52)की मौत हो गई। उसे सीओपीडी के साथ डेंगू जैसा बुखार था। बिल्हौर के राशिदद(40) और फतेहपुर की सायरा बानो(44) की भी हैलट इमरजेंसी के मेडिसिन वार्ड में मौत हो गई। हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से दिए गए दो सरकारी लैबों के आंकड़े इसकी पुष्टि कर रहे हैं। फ्राईडे को सिर्फ मेडिकल कालेज और उर्सला की लैब से ही 58 पेशेंट्स को डेंगू की पुष्टि हुई।

इसी के साथ डेंगू के कुल पेशेंट्स की संख्या 2,148 हो गई है। सीएमओ डॉ.अशोक शुक्ला ने बताया कि डेंगू कंट्रोल करने को लेकर डेंगू दस्तक अभियान शुरू किया गया है। वहीं शहर में डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इंडियन  मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए)  की ओर से 17 नवंबर से शहर के तीन स्थलों पर नि:शुल्क स्वास्थ शिविर आयोजित किए जा रहे हैं।

ALSO READ:  दीवाली के मौक़े पर योगी सरकार ने किया 25 हज़ार होमगार्डों के घर अंधेरा, एक झटके में छीन ली नौकरी...

आईएमए भवन, परेड में एसोसिएशन की अध्यछ डॉ. रीता मित्तल ने बताया कि डेंगू से बचाव के लिय 10 बजे से रोज़ शाम को नि:शुल्क ओपीडी लग रही है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.