MP : प्रवासी मज़दूरों से भरा का एक और ट्रक पलटा, 6 की दर्दनाक मौत

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ground Report | MP

कोरोना वायरस के संक्रमण के बीच में शनिवार बड़ी आफत बनकर आया। सूबे के औरैया में जहां 25 लोगों ने दम तोड़ा वहीं उन्नाव व अलीगढ़ में दो-दो लोगों की मौत हो गई। मध्य प्रदेश से गोरखपुर आ रहा ट्रक भी छतरपुर में दुर्घटनाग्रस्त होने से पांच लोगों की मौत हो गई जबकि दर्जनों घायल हैं।

मध्य प्रदेश में सागर जिला मुख्यालय से लगभग 70 किलोमीटर दूर सागर-कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग-86 पर प्रवासी श्रमिकों को महाराष्ट्र से उत्तर प्रदेश ले जा रहा एक ट्रक शनिवार सुबह पलट गया जिससे छह श्रमिकों की मौत हो गई और 16 अन्य घायल हो गए। प्रवासी कामगार तथा श्रमिकों के प्रदेश में लौटने का क्रम जारी है।राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन प्रवासी मजदूरों के लिए मुश्किलों का सबब बन गया है। इसी में उनके वाहन बड़ी संख्या में दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। लंबे रास्तों का सफर खुद तय करने निकले प्रवासी मजदूर बड़े पैमाने पर सड़क हादसों का शिकार हो रहे हैं।

ALSO READ:  क्या भारत में लगने वाला ये टीका है कोरोना का इलाज ? कई देशों ने शुरू किया ह्यूमन ट्रायल

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया ने बताया कि यह घटना शनिवार सुबह करीब 10 बजे हुई। छानबीला थाना क्षेत्र में सागर-कानपुर मार्ग पर सेमरा पुल के पास प्रवासी श्रमिकों को ले जा रहा ट्रक पलट गया। इस हादसे में छह श्रमिक मारे गए और 16 अन्य घायल हो गए. घायलों को उपचार के लिए बंडा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भूरिया ने बताया कि मृतकों में चार महिलाएं और दो पुरुष शामिल हैं। ये श्रमिक उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में जा रहे थे। एएसपी ने बताया कि ट्रक में कपड़ों के बंडल लदे थे जिस पर ये प्रवासी श्रमिक बैठे थे।

ALSO READ:  बिहार में 16 दिन का लॉकडाउन, जानिए क्या हैं नियम?

मालूम हो कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन के कारण प्रवासी मजदूरों के सामने आजीविका का संकट खड़ा हो गया है और वे अपने गृह राज्यों की ओर पलायन करने को मजबूर हैं। उनके साथ लगातार हादसों की खबरें आ रहीं हैं। इससे पहले महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक मालगाड़ी की चपेट में आने से 16 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई थी। इससे पहले बीती 14 मई की देर रात उत्तर प्रदेश के जालौन और बहराइच में दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में तीन प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 71 अन्य घायल हो गए थे। लॉकडाउन के कारण अब तक 300 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं ।

ALSO READ:  From meditation to reading, workout to spirituality: TV stars’ guide to staying positive in lockdown

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।