shivsena leader sanjay raut replies to BJP over ed summon to his wife

मुझसे पंगा मत लेना मैं नंगा आदमी हूं, उनका बाप हूँ, संजय राउत का बीजेपी और ED पर निशाना

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Shivsena Sanjay Raut BJP : शिवसेना नेता और सांसद संजय राउत ने कहा कि मुझसे पंगा मत लेना मैं नंगा आदमी हूं और शिवसैनिक हूं। मेरे पास भाजपा की फ़ाइल है, अगर उसे निकाला तो आपको देश छोड़कर भागना पड़ेगा। मेरे पास 121 लोगों के नाम हैं। जल्द ही ईडी को दूँगा। इतने नाम हैं कि 5 साल ईडी को काम करना पड़ेगा। तब ईडी को पता चलेगा कि किससे पंगा लिया है। दरअसल पत्नी के नाम ईडी के समन के बाद शिवसेना नेता संजय राउत (Shivsena Sanjay Raut) आगबबूला हो गए और उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस कर मोदी सरकार और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। (shivsena leader sanjay raut replies to BJP over ed summon to his wife)

READ:  Mumbai: कोरोना वायरस से हर 9 मिनट में एक शख्स की मौत!

संजय राउत ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वह इस तरह की चीजों से डरने वाले नहीं हैं। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार को दो टूक कहा कि, उनकी पत्नी वर्षा राउत के नाम सियासी विरोध की वजह से समन भेज गया है। ईडी केंद्र सरकार के इशारे पर काम कर रही है, लेकिन हम कानून का पालन करेंगे। (shivsena leader sanjay raut replies to BJP over ed summon to his wife)

इस राज्य से राहुल गांधी के लिए बुरी खबर, कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होंगे दो विधायक

उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि, यह सब बीजेपी की राजनीतिक चाल है, इसलिए उन्होंने 10 साल पुराना केस ईडी से खुलवाया है। हम मिडल क्लास लोग हैं। मेरी पत्नी टीचर हैं। पत्नी के दोस्त से 50 लाख का कर्ज लिया था। राज्यसभा के हलफनामे में मैंने इसका जिक्र भी किया है। इनकम टैक्स में भी यह दिखाया गया है। यह छिपाई हुई बात नहीं है। इससे ईडी और बीजेपी को क्या तकलीफ है। इस देश में बीजेपी के लिए बड़े-बड़े सूरमा बैठे हैं। अगर मैं उनके परिवार तक पहुंचा तो उन्हें देश छोड़कर भागना होगा।

READ:  पुलिस-दमकल की गाड़ियाँ खड़ी थी लेकिन आग बुझाने की कोशिश नहीं की, हिंसा का आँखों देखा मंज़र-3

इतना ही नहीं संजय राउत का ये निशाना यहीं नहीं रुका इसके बाद उन्होंने कहा, शिवसेना और एनसीपी के 22 विधायकों की सूची दिखाई गई थी। मुझसे कहा गया था कि अगर मैंने इस सरकार की मदद की तो धीरे धीरे इन सभी के ऊपर ईडी या दूसरी एजेंसी कार्रवाई करेंगी। इसमें सबसे पहला नाम प्रताप सरनाईक का था। बीजेपी वाले पिछले एक साल से मिलकर यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि तुम इस सरकार को बचाने की कोशिश मत करो। हम इसे गिराना चाहते हैं। अलग अलग तरीके से धमकी और इशारे देकर भी मुझे डराने की कोशिश की गई, लेकिन मैं डरा नहीं, मैं उनका बाप हूँ।

READ:  नहीं रहे 'सूरमा भोपाली', 81 की उम्र में निधन

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।