शिवराज बोले – कमलनाथ के दाग़ बड़े गहरे हैं, दुनियाभर के वॉशिंग पाउडर से भी नहीं धुलेंगे

CM शिवराज के गृह जिला ‘सीहोर’ में BJP के कद्दावर नेताओं ने दिखाए पार्टी के खिलाफ बागी तेवर !

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

(प्रदेश केे मुखिया शिवराज सिंह चौहान का जिला होने के अलावा यहीं से मुख्यमंत्री की खुद की विधानसभा सीट भी है; सीहोर जिला दरअसल राजनीतिक दृष्टी से भी महत्वपूर्ण है,यहां से चार विधानसभा सीटें, बुधनी, सीहोर, इछावर और आष् टा की सीटें हैं। पिछली बार इस जिले से बीजेपी दो जगह अपनी सीट बचा पाई थी और दो जगह उसे हार का सामना करना पड़ा था। जिले की चुनावी समीकरण पर वरिष्ट पत्रकार राकेश समाधिया की रिपोर्ट )

भाजपा द्वारा लंबी प्रतिक्षा के बाद जारी की गई सूची के बाद सीहोर जिले के राजनीतिक समीकरण तेजी से बदलते दिखाई दे रहे हैं। हालांकि कांग्रेस ने अपने चार विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार घोषित नहीं किए हैं।

भाजपा की सूची जारी होने के बाद अब सीहोर विधानसभा और इछावर में पार्टी के खिलाफ बागी सुर सुनाई देने लगे हैं। भाजपा ने अपनी पार्टी के टिकट के दावेदारों को नजरअंदाज करते हुए, सरकार से नजदीकी संबंध बनाने वाले निर्दलीय विधायक सुदेश राय को सीहोर विधानसभा से उम्मीदवार घोषित किया है।

READ:  मध्य प्रदेश उपचुनाव: सिंधिया के गढ़ में उतरी कमलनाथ की 'प्लेइंग इलेवन टीम', शिवराज को 'घेरने' की तैयारी!

वहीं पिछला चुनाव हार चुके इछावर के पूर्व विधायक एवं प्रदेश के मंत्री रहे करण सिंह वर्मा को अपना उम्मीदवार घोषित किया जिसके बाद यहां भी बगावत के सुर तेज हो गए।

Related image

( वर्तमान विधायक सुदेश राय को बीजेपी ने सीहोर जिले से उम्मीदवार बनाया है)

प्रेस वार्ता और वीडियो जारी कर किया निर्दलीय लड़ने का ऐलान
शुक्रवार को पत्रकारवार्ता आयोजित कर पिछले कई महीनों से भाजपा से टिकिट की आस लगाए बैठे पूर्व विधायक रमेश सक्सेना की धर्म पत्नी ऊषा सक्सेना एवं पुराने जनसंघ के जमाने से सक्रिय परिवार के सदस्य सन्नी महाजन ने निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरने की घोषणा करने के बाद से भाजपा उम्मीदवार की राह में कांटे ही कांटे दिखाई देने लगे हैं।

 (जनसंघ के समय से सक्रिय सन्नी महाजन और पूर्व विधायक रमेश सक्सेना की पत्नी ऊषा सक्सेना)

विधानसभा चुनाव 2018: बीजेपी ने मध्य प्रदेश के लिए 177 प्रत्याशियों की घोषणा, इस मंत्री का कटा टिकट

READ:  चुनाव के बाद भी क्यों होते हैं उपचुनाव, ये हैं 6 कारण

इछावर में भी बदलाव के सुर तेज

भाजपा द्वारा जहां प्रदेश की लगभग सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित करने कर चुकी है। वहीं कांग्रेस उम्मीदवारों की घोषणा नहीं होने से टिकट के उम्मीदवार सक्रिय बने हुए हैं। भाजपा उम्मीदवार की घोषणा के साथ ही जिले की सीहोर और इछावर विधानसभा क्षेत्र में बगावत के आसार बने हुए हैं। ऊषा सक्सेना और सन्नी महाजन के बाद अब इछावर से भ ाजपा नेता अजय पटेल ने बागी सुर शुरू कर दिए हैं।MP Elections 2018: दुलारे सिंह के बागी तेवर, टिकट कटा तो बीजेपी छोड़ निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे

(बागी नेता अजय पटेल और इस बार बीजेेेेपी इछावर विधानसभा उम्मीदवार करण सिंह वर्मा )

Image result for raghunath malviya

(रघुनाथ मालवीय आष्टा से बीजेपी उम्मीदवार)

बदलेंगे राजनीतिक समीकरण
भाजपा द्वारा चुनाव में जिस तरह के उम्मीदवार घोषित किए है। उससे भाजपा की संभावना धूमिल होती दिखाई दे रही है। सूची को देखकर जिस तरह से टिकट की दौड़ में बने नेताओं में मायूसी दिखाई दी और उनके बगावती तेवर दिखाई दे रहे हैं। इससे सीहोर जिले की विधानसभाओं के समीकरण बदलने लगे हैं।

READ:  PM मोदी ने देश को धोखा दिया है !

 

 

 

Comments are closed.

%d bloggers like this: