Home » मध्यप्रदेश में चुनावों से पहले भाजपा को झटका, कांग्रेस के पाले में खुशी

मध्यप्रदेश में चुनावों से पहले भाजपा को झटका, कांग्रेस के पाले में खुशी

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

न्यूज़ डेस्क।। इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा को झटका लगा है। मप्र के 14 जिलों में हुए नगरपालिका एवं नगर पंचायत उप-चुनाव में कांग्रेस ने 14 में से 9 सीटों पर जीत हासिल की है, वहीं भाजपा को 4 और 1 सीट पर निर्दलीय को जीत हासिल हुई है।

कांग्रेस को मिली जीत पर कमलनाथ ने ट्वीट कर बधाई दी..

3 अगस्त को हुए नगरपालिका उपचुनाव में कांग्रेस को छिंदवाड़ा से 3, बुरहानपुर, नीमच, ग्वालियर, सिंगरौली, भोपाल, सतना और गुना से एक-एक सीट पर जीत हासिल हुई। भाजपा को दमोह, मंदसौर, दतिया और अनुपर में जीत हासिल हुई, भिंड से एक निर्दलीय उम्मीदवार को जीत मिली।

READ:  Himachal Pradesh Ex CM Virbhadra Singh passes away: हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का निधन, जानिए 6 बार मुख्यमंत्री पद मिलने की कहानी!

इंदौर जिला पंचायत उपचुनाव में भी कांग्रेस ने बीजेपी से मौजूदा सीट छीन कर जीत दर्ज की है।  वार्ड तीन में कांग्रेस के जीतू ठाकुर ने बीजेपी के घनश्याम पाटीदार को बाइस सौ 94 मतों से हरा दिया। कांग्रेस के जीतू पटवारी के विधानसभा  क्षेत्र की इस सीट पर कांग्रेस और भाजपा दोनो  की प्रतिष्ठा दांव पर थी । भाजपा के कई बड़े नेता इस चुनाव के प्रचार में उतरे थे।

हाल ही में पंचमढ़ी छावनी कंटोनमेंट बोर्ड चुनाव में भी कांग्रेस ने 23 साल बाद 7 में से 6 सीट पर जीत हासिल की थी। छोटे चुनावों में मिल रही जीत से कांग्रेस खेमें में उत्साह है तो वहीं शिवराज सिंह चौहान की जन आशिर्वाद यात्रा को मिल रहे जनसमर्थन से भाजपा आश्वस्त है।

इससे पहले हुए विधानसभा और लोकसभा उपचुनावों में भी भाजपा का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है, उपचुनावों और निकाय चुनावों में लगातार मिल रही हार भाजपा के लिए चिंता का विषय है।

READ:  Railway Minister Ashwini Vaishnav: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने किया ट्रेन के पायलट संग इंजन में सफर

फिलहाल कांग्रेस जनजागरण यात्रा कर जनता को जगाने की कोशिश में लगी है तो वहीं जन-आशिर्वाद यात्रा कर शिवराज जनता का आशिर्वाद लेने में । अब यह तो चुनाव के नतीजे ही बताएंगे की कांग्रेस जनता को जगाने में कामयाब हुई या भाजपा एक बार फिर जनता का आशिर्वाद लेने में ।