Home » Sana Ramchand: पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला जो बनीं प्रशासनिक अधिकारी

Sana Ramchand: पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला जो बनीं प्रशासनिक अधिकारी

Sana Ramchand First Hindu Woman of Pakistan who becomes assistant commissioner
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Sana Ramchand First Hindu Woman of Pakistan who becomes assistant commissioner: सीएसएस की परीक्षा पास करने वाली सना रामचंद पाकिस्तान की पहली हिंदू महिला प्रशासनिक अधिकारी ( Sana Ramchand First Hindu Woman of Pakistan who becomes assistant commissioner ) बनी हैं। पाकिस्तान प्रशासनिक सेवा (पीएसएस) में उनका चयन हुआ है। उन्होंने परीक्षा में सफल हुई 79 महिलाओं में अपनी जगह बनाई है।

कौन है सना रामचंद? Who is Sana Ramchand
सना रामचंद एक एमबीबीएस डॉक्टर है। वह पाकिस्तान के सबसे ज्यादा हिन्दू पापुलेशन वाले सिंध प्रांत के शिकारपुर जिले से है। शिकारपुर एक ग्रामीण इलाका है।

सना ने अपना एमबीबीएस चंदका मेडिकल कॉलेज से किया। उसके बाद सिविल अस्पताल कराची में अपनी होम जॉब की। वह अभी सिंध इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूरोलॉजी एंड ट्रांसपेरेंट से FCPS कर रहीं है, और बहुत जल्द एक सर्जन भी बन जाएंगी।

कैसे होता है प्रशासनिक सेवा के लिए चयन?

प्रशासनिक सेवा के लिए लिखित परीक्षा देनी होती है। परीक्षा पास करने के बाद फाइनल सेलेक्शन के लिए मेडिकल, सायकोलॉजिक और ओरल टेस्ट देना होता है।

सेंट्रल सुपीरियर सर्विस में सिलेक्ट होने के बाद पीएस की नियुक्ति असिस्टेंट कमिशनर की पोस्ट पर होती है और उसके बाद में प्रमोशन होकर जिला कमिशनर बनते हैं। इस बार टॉपर के साथ 79 महिलाओं ने फाइनल में अपनी जगह बनाई है। माहीन हसन इस परीक्षा की टॉपर रही हैं, सना के साथ उनका सेलेक्शन भी पीएएस के लिए हुआ है।

READ:  Afghan child denied burial in Pakistan: locals say 'Bury in India'

हिमंता बिस्वा शर्मा होंगे असम के नए मुख्यमंत्री, सोनोवाल की छुट्टी

सफल होने के बाद क्या कहा सना ने?

रिजल्ट आने के बाद सना रामचंद ने ट्वीट किया कि- वाहेगुरू जी का खालसा, वाहेगुरू जी की फतेह, मुझे लगता है कि अल्लाह ने मुझे मंजूरी दे दी आप सबको ये बताने की कि मैंने अपना css2020 परीक्षा पास कर ली है। इसका पूरा क्रेडिट मेरे माता-पिता को जाता है।

सना ने बताया कि परीक्षा पास करने के लिये लेटेस्ट परसेंटेज 2परसेंट रहा, जो दिखाता है कि कंपीटिशन कितना कठिन था। बिल्कुल वैसा ही जैसे फेडरल पब्लिक सर्विस की भर्त्ती के लिए कठिन मानक(standard) जरूरी हैं। मैंने बिना किसी मदद के परीक्षा पास की है बस इंटरव्यू के लिए कोचिंग करी थी।

READ:  Unlock in MP: मंदिर और ऑफिस खुलेंगे, मॉल रहेंगे बन्द, जानिए अनलॉक की कुछ खास बातें

किसने किसने दी सना को सफलता की बधाई?

पाकिस्तान के वरिष्ठ नेता फरहतुल्लाह बाबर ने सना के अधिकारी बनने पर उन्हें बधाई दी। फरहतुल्लाह ने कहा- डॉ. सना रामचंद को बधाई, उन्होंने पाकिस्तान के पूरे हिन्दू समुदाय को गर्व महसूस कराया है।

एक सोशल मीडिया यूजर सुमित राठौर ने ट्वीट किया- हर दिन असामान्य खबरों के बीच आइये डॉ सना रामचंद को बधाई देते हैं। वह css2020 exam को पास करने वाली पहली हिन्दू महिला हैं और यह सभी हिंदू कम्युनिटी के लिए एक गर्व की बात है कि वह असिस्टेंट कमिशनर के पद के लिये चुनी गयी हैं।

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।