देश कोरोना से लड़ रहा है, “दक्षिणपंथी” हंसराज मीणा से!

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

ललित कुमार सिंह, ग्राउंड रिपोर्ट:
भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1347 हो गयी है और 33 लोगों की मौत हुई है। पूरे देश में 21 दिन का लॉक डाउन है और कोरोना से निपटने लिए देश हर कोशिश कर रहा है। मगर फिर भी संख्या थमने का नाम नहीं ले रही है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पीएम केयर्स नाम के एक रहत कोष की घोषणा की थी। हंसराज मीणा इसी फंड के लिए लोगो से दान करने की अपील कर रहे थे। लेकिन मीणा का आरएसएस से दान की अपील करना दक्षिणपंथी विचारधारा के लोगो को नहीं भाया। इसके बाद दक्षिणपंथियों ने मीणा के नाम के साथ गालियां और अभद्र भाषा लिखकर ट्विटर पर ट्रेंड करवा दिया।

यह भी पढ़ें : हंसराज मीणा के खिलाफ ट्विटर पर ट्रेंड किया गाली भरा हैशटैग, आरएसएस से की थी दान देने की अपील

READ:  Covid-19: New study on effectiveness of antibodies on variants

एससी-एसटी, पिछडो और मुसलमानों की लड़ाई को लेकर सोशल मीडिया पर सक्रीय रहने वाले हंसराज मीणा कुछ चुनिंदा संस्थानों व् हस्तियों से दान की अपील कर रहे थे। मीणा ने बीसीसीआई से अपील की तो कुछ ही घंटो में बीसीसीआई ने दान में 51 करोड़ रुपये दिए। और मीणा ने योग गुरु बाबा रामदेव से भी दान की अपील की थी, कल रामदेव बाबा ने भी दान दिया। लेकिन शायद मीणा का आरएसएस से दान की अपील करना संघ के लोगो को नहीं भाया। और संघी विचारधारा के लोगो ने मीणा को ट्विटर पर अभद्रता के साथ ट्रेंड करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें : क्यों ट्विटर पर ट्रेंड हो रहे हैं हंसराज मीणा के ख़िलाफ़ हैशटैग्स?

READ:  Hospitals overwhelmed, graveyards overflowing as Covid-19 infections surge in India

“हंसराज गा*** मरवा कर पैसा कमाओ”, “हंसराज एक बाप का नहीं” और “हंसराज मीणा हलाला की औलाद” जैसे हैशटैग्स के बाद आज सुबह ट्रेंड किया “हराम की औलाद हंसराज”

मीणा इन सभी हैशटैग्स को देख परेशान  ज़रूर हैं लेकिन उन्होंने ट्वीट कर कहा कि “कुछ लोग चाहते है कि हम ट्विटर को अलविदा कर दे, ऐसा मैं किसी से डरकर करूँगा नहीं। मेरे अपने लोगो की हजारों नित नई समस्याओं का एक संसार है। लेकिन मेरी लिखने की भड़ास अब ट्विटर पर ठीक से निकल नहीं पा रही है। मैं एक छोटा सा देहाती लेखक भी हूँ। अब कोशिश करूंगा विस्तृत रुप से बात रखूं।”

उन्होंने यह भी ट्वीट किया कि “कुछ समाज के बहके लोग किसी के बहकावे में आकर संघीयों के साथ लगकर अगर हमें टारगेट करते हैं तो उन्हें तुरन्त ब्लॉक कर दिजीये। समाज के अंदर ऐसे छुपे संघी, जलसी, ईर्ष्यालू लोगों को तत्काल नजरअंदाज करो। आगे बढ़ो। ऐसे लोग ही हमारे समुदाय को इन ताकतों के गुलाम बनाने का काम करते हैं।”

READ:  Scientists warn new covid-19 mutations within a year due to slow launch of vaccines

Comments are closed.