Home » Rice Scam in MP : चावल घोटाले में कांग्रेस नेता सहित 5 अन्य के ख़िलाफ़ FIR

Rice Scam in MP : चावल घोटाले में कांग्रेस नेता सहित 5 अन्य के ख़िलाफ़ FIR

MSP in Agriculture : क्या होता है न्यूनतम समर्थन मूल्य ?
Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Rice Scam in MP : मध्य प्रदेश में चुनावी घमासान के बीच चावल घोटाला भी चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रदेश में चावल घोटाले में 28 ज़िलो के नाम के बाद इसके तार अब इंदौर से भी जुड़ गए हैं। शनिवार को जिला प्रशासन द्वारा महू में लगभग 50 करोड़ रुपए के अनाज घोटाले का पर्दाफ़ाश किया गया है।

चावल घोटाले को लेकर कलेक्टर मनीष सिंह ने किया खुलासा। कांग्रेस के नेता और पूर्व पार्षद मोहन लाल अग्रवाल और उनके बेटे मोहित अग्रवाल, तरुण अग्रवाल सहित सहित कुल 5लोगों पर एफआईआर फिलहाल दर्ज की गई है।

इस घोटाले में एक खाद्य आपूर्ति निगम का कर्मचारी है। इसके साथ ही मंडी के कुछ और कर्मचारी भी आगे मामले में शामिल हो सकते हैं। कलेक्टर के मुताबिक फिलहाल यह घोटाला करीब पचास करोड़ का है लेकिन यदि पिछले दस या पंद्रह वर्ष का हिसाब बनाया जाए तो यह सौ करोड़ रु तक भी हो सकता है।

READ:  Indore Corona: 5 सदस्य के परिवार में 3 की मौत, अस्पताल का बिल बना 16 लाख

ग्वालियर-चंबल संभाग की वो 16 सीटें जिन पर होना है उपचुनाव

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया व्यापारियों के ठिकाने से चावल की 900 बोरियां मिली हैं। कुछ पर सरकारी सील लगी हुई है। इस अनाज घोटाले (Rice Scam in MP ) के तार बालाघाट, मंडला और नीमच से भी जुड़े पाए गए हैं। प्राथमिक जांच में व्यापारी मोहनलाल अग्रवाल और उसके सहयोगियों के नाम आए हैं। इसमें नागरिक आपूर्ति निगम के एक कर्मचारी की संलिप्तता भी पाई गई है। पांच पर एफआइआर दर्ज की गई है। विस्तृत जांच की जा रही है।

दरअसल, चावल की गुणवत्ता जांच का कोई पुख्ता तंत्र मध्य प्रदेश में नहीं है। राज्य का नागरिक आपूर्ति निगम अपने और भारतीय खाद्य निगम के सेवानिवृत्त अधिकारियों की सेवाएं लेकर काम चला रहा है, जो माफिया के गठजोड़ का आसानी से हिस्सा बन जाते हैं। यही वजह है कि केंद्र सरकार की जांच का हल्ला मचने के बाद 73 हजार 540 टन चावल मिलर्स को वापस लौटाया जा रहा है।

READ:  लोग कोरोना से मर रहे हैं और बीजेपी नेता राजश्री गुटखा के लिए चिंतित है

मध्य प्रदेश उपचुनाव: बीजेपी को हराने के लिए ये है कांग्रेस का मास्टर प्लान

ग्राउंड रिपोर्ट के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।