अर्नब गोस्वामी पर 20 लाख का जुर्माना

अर्नब गोस्वामी के कार्यक्रम ‘पूछता है भारत’ पर नफ़रत फैलाने को लेकर जुर्माना

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक टीवी की तुलना की अब ज़ाकिर नाईक के पीस टीवी से होने लगी है। जी हां रिपब्लिक टीवी के हिंदी समाचार चैनल पर यूके में जुर्माना लगाया गया है। यह जुर्माना एक कार्यक्रम में हेट स्पीच के नियमों के उल्लंघन के चलते ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग रेग्युलेटर (ब्रिटेन में मीडिया पर निगरानी रखने वाले नियामक) ऑफकॉम ने लगाया गया है। ऐसा ही जुर्माना ‘ऑफकॉम’ ने विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाइक के पीस टीवी नेटवर्क पर भी लगाया था।

अर्नब गोस्वामी की बढ़ती मुश्किलें

अर्नब गोस्वामी रिपब्लिक टीवी के मालिक हैं उनका एक अंग्रेज़ी और एक हिंदी चैनल है। पिछले कुछ समय से उनपर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। हाल ही में रिपब्लिक टीवी के स्टूडियो डिज़ाईन करने वाले व्यक्ति के सुसाईड केस में अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया था। इस केस में आत्महत्या करने वाले व्यक्ति ने अपने सुसाईड नोट में अर्नब को ज़िम्मेदार ठहराया था। इसके बाद रिपब्लिक टीवी पर टीआरपी रेटिंग से छेड़छाड़ के आरोप लगे। इस केस में भी रिपब्लिक टीवी से गिरफ्तारी हुई। इससे पहले पालघर मामले पर अर्नब ने अपने कार्यक्रम में सोनिया गांधी पर आपत्तीजनक टिप्पणी की थी जिसके बाद कई राज्यों में उनपर केस दर्ज हो गए थे।

READ:  Republic TV CEO Vikas Khanchandani arrested in TRP rigging case

क्या है नया मामला?

रिपब्लिक भारत पर ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग रेग्युलेटर (ब्रिटेन में मीडिया पर निगरानी रखने वाले नियामक ऑफकॉम) ने 20,000 पाउंड (करीब 20 लाख रुपए) का जुर्माना लगाया है। चैनल पर आरोप है कि उसने टीवी डिबेट में हेट स्पीच के नियमों के मामलों का उल्लंघन किया है। 6 सितंबर 2019 के ‘पूछता है भारत’ कार्यक्रम में ऑफकॉम के एग्जीक्यूटिव ने पाया है कि इस प्रोग्राम में काफी हेट स्पीच है और यह काफी अपमानजनक है, जो कि नियम 2.3, 3.2 और 3.3 का उल्लंघन करता है। ‘पूछता है भारत’ के उस कार्यक्रम में ऐसे बयान शामिल थे, जो पाकिस्तान के लोगों के खिलाफ घृणा फैलाने वाले भाषण थे। इसमें पाकिस्तान के लोगों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां थीं। आदेश में कहा गया है कि कार्यक्रम में राष्ट्रीयता के आधार पर पाकिस्तानी लोगों के बारे में अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया। 

READ:  इमरती देवी ने कहा, भाड़ में जाए पार्टी, विवाद बढ़ने पर बोलीं, मैं तो BJP की पूजा करती हूँ

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।