Corona Virus: Lock Down में कोई गरीब भूखा नहीं रहेगा, पढ़ें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की घोषणाएं

ग्राउंड रिपोर्ट | नई दिल्ली
भारत में कोरोना वायरस(Corona) का प्रकोप दिन प्रतिदिन बढ़ने पर है। पूरे देश में कोरोना से जुड़े अब तक 600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और लगभग 14 लोग इस महामारी की वजह से अपनी जान गवा चुके हैं। इस बीच पूरे देश में लॉकडाउन(Lockdown) के चलते सारे काम रुक गए हैं जिनसे सबसे ज्यादा नुकसान गरीब, मज़दूर और किसानों को हो रहा है। आज सरकार ने इस लॉकडाउन और महामारी से प्रभावित लोगो के लिए एक लाख 70 हजार करोड़ के आर्थिक पैकेज का एलान किया।

वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि “कोई भी भूखा नहीं रहेगा, इसके लिए सरकार ने इंतजाम किए हैं, पैकेज 1.70 लाख करोड़ रुपये का है।”

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की प्रेस कांफ्रेंस की मुख्य बातें :
जो लोग इस जंग को लड़ रहे हैं, चिकित्सा के क्षेत्र में काम कर रहे हैं उन्हें 50 लाख का लाइफ इंश्योरेंस दिया जाएगा। 20 लाख कर्मचारियों को मिलेगा लाभ।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना यह सुनिश्चित करेगी की हर गरीब को खाना मिले। योजना के तहत पांच किलो अतिरिक्त गेहूं या चावल अगले तीन महीने तक मुफ्त मिलेगा। साथ ही एक किलो दाल देने भी मुफ्त देने का प्रावधान है। इसका फायदा 80 करोड़ लाभार्थी को मिलेगा।

यह भी पढ़े: चिदंबरम के ये 10 सुझाव, कर्फ्यू में लोगों की ज़िंदगी आसान बना सकते हैं

सरकार की “किसान” (किसान सम्मान निधि) योजना के तहत पंजीकृत किसानों को अप्रैल के पहले हफ्ते में 2000 रुपये की किस्त उनके खातों में डाल दी जाएगी। देश के 8 करोड़ 70 लाख किसानों को इसका लाभ मिलेगा।

Also Read:  Why Covid-19 death count vary in WHO and official accounts?

निर्मला सीतारमण ने बताया कि बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे। ये अगले तीन महीने के लिए है। इसे दो किस्त में दिया जाएग। इस वर्ग के लोगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर किया जाएगा। इस पहल का फायदा लगभग 3 करोड़ लोगों को होग।

मनरेगा के मजदूरों की दिहाड़ी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये कर दी गई है।

उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ महिला लाभार्थियों को लाभ मिलेगा, इन्हें तीन महीने तक मुफ्त सिलिंडर दिए जाएंगे।

इसके अतिरिक्त अगले तीन महीने तक महिला जनधन खाताधारकों को प्रति माह 500 रुपये दिए जाएंगे। वित्त मंत्री ने कहा कि इसका लाभ 20 करोड़ महिलाओं को होगा।

यह भी पढ़े: CoronaVirus: चीन में पटरी पर लौट रही जिंदगी, भारत में लॉक डाउन

दीनदयाल योजना के तहत महिलाओं को महिला स्वयं सहायता समूह(Self Help Group) की महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा। पहले इनको 10 लाख तक का लोन दिया जाता था।

मनरेगा के तहत 5 करोड़ परिवारों को 182 रुपए की जगह 202 रुपए दिहाड़ी दी जाएगी।3 करोड़ सीनियर सिटीजन/विधवा/दिव्यांग को 1000 रुपए अगले 3 महीने में दो किश्तों में दिए जाएंगे। उज्ज्वला योजना के 8 करोड़ लाभार्थी परिवारों को अगले 3 महीने तक मुफ्त सिलेंडर मिलेगा- वित्तमंत्री