Randeep Hooda

‘जाति सूचक’ टिप्पणी करने पर रणदीप हुड्डा के खिलाफ एक्शन, यूएन एंबेसडर के पद से हटाए गए

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अभिनेता रणदीप हुड्डा (Randeep Hooda) इन दिनों अपने एक पुराने वीडियो को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। जिसमें उन्होंने बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती (Mayawati) को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने की थी। जिसके बाद से social media में रणदीप हुड्डा ( Randeep Hooda ) को गिरफ्तार करने की लोग मांग कर रहे हैं। मामले में संयुक्त राष्ट्र (UN) की, जंगली जानवरों की प्रवासी प्रजातियों के संरक्षण संबंधी संधि (CMS) के राजदूत (एंबेसडर) के पद से हटा दिया गया है। ऐसे में उनके फैन्स के लिए एक बुरी खबर है।

CMS ने रणदीप हुड्डा को UN Ambassador के पद से हटाया

अभिनेता रणदीप हुड्डा को फरवरी 2020 में तीन साल के लिए राजदूत नियुक्त किया गया था। वहीं अभिनेता के विवादित बयान के बाद उन्हें संयुक्त राष्ट्र (UN) की, जंगली जानवरों की प्रवासी प्रजातियों के संरक्षण संबंधी संधि (CMS) के राजदूत (Ambassador) के पद से हटा दिया गया है।

READ:  दलित उत्पीड़न की 10 दर्दनाक दास्तान, देश फैले जातिवाद को चीख-चीख कर बयां करती है

Randeep Hooda को गिरफ्तार करने की मांग? पूर्व मुख्यमंत्री पर की आपत्तिजनक टिप्पणी !

रणदीप हुड्डा (Randeep Hooda) की टिप्पणी CMS को लगी आपत्तिजनक

रणदीप द्वारा देश की एक प्रमुख महिला नेता को लेकर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद से विवाद के घेरे में हैं। जिसके चलते CMS सचिवालय को उनकी यह टिप्पणी आपत्तिजनक लगी, और उन्होंने रणदीप हुड्डा (Randeep Hooda) को CMS के राजदूत के पद से हटा दिया। उनका कहना है कि ऐसी टिप्पणी करना CMS के खिलाफ है।

क्यों उठ रहे रणदीप हुड्डा पर सवाल, क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि रणदीप हुड्डा का एक पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उस वीडियो में उन्होंने मायावती नामक महिला का नाम लेते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की। जिसके बाद से लोग रणदीप की वीडियो को लेकर उनको भला बुरा कह रहे, और साथ ही साथ उन पर कड़ी से कड़ी करवाई करने की मांग की जा रही है। क्लिप वायरल होने के बाद लोगों में काफी नाराजगी है। लोग इसे ‘सेक्सिस्ट’, ‘स्त्री विरोधी’ और ‘जाति सूचक’ कहकर कड़ी आपत्ति जता रहे हैं।

READ:  WhatsApp Alert: आपके हर मैसेज पर सरकार की नजर, रेड टिक होने पर होगा एक्शन!

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

%d bloggers like this: