भारतीय रेलवे -स्पेशल ट्रेनें यूपी बिहार रुट पर बढ़ाई जाएंगी

भारतीय रेलवे: यूपी-बिहार के लिए बढ़ाई जा सकती हैं स्पेशल ट्रेनें

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

भारतीय रेलवे जल्द ही यूपी और बिहार के लिए स्पेशल ट्रेनों की संख्या में इज़ाफा करने वाला है। इसकी वजह रेलगाड़ियों में बढ़ती भीड़ को माना जा रहा है। कोरोना महामारी की वजह से नियमित ट्रेनों का संचालन अभी अनिश्चित काल के लिए बंद है, लेकिन रेलवे कुछ चुनिंदा मार्गों पर स्पेशल ट्रेनें चला रहा है। स्पेशल ट्रेनों की संख्या बढ़ाने को लेकर रेलवे संबंधित राज्यों और गृह मंत्रालय के संपर्क में है।

ALSO READ: 2023 से पटरी पर दौड़ेंगी निजी ट्रेनें, जानिए 10 बड़ी बातें

स्पेशल ट्रेनों को लेकर खास बातें-

  • रेलवे अभी 230 विशेष ट्रेनों का संचालन कर रही है, जो देश के सभी हिस्सों को जोड़ने का काम कर रही हैं।
  • विशेष ट्रेनों में 80 फीसदी सीटें भरी हुई जा रही हैं। कुछ रूट पर भीड़ बढ़ी है। खासकर बिहार- बंगाल जाने वाली ट्रेनों में 10 से 15 दिन तक की वेटिंग सामने आ रही है। पहले 30 फीसदी ट्रेनें पूरी तरह से भरी जा रही थीं, वह अब बढ़कर 40 फीसदी तक पहुंच गई हैं। 
  • पश्चिम बंगाल सरकार ज्यादा ट्रेन चलाने के पक्ष में नहीं है। ऐसे में लंबी दूरी की ट्रेनों को भले ही ना बढ़ाया जाए, लेकिन उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए कुछ और विशेष ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। इससे इस रूट पर चल रही मौजूदा ट्रेनों में भीड़ को कम किया जा सके।
  • दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता रूट पर ट्रेनों की गति बढ़ाने का रास्ता साफ हो गया है। अभी इन रूट पर 110 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से यात्री ट्रेनों का संचालन किया जा रहा था। अब यह 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से किया जा सकेगा।
  • यात्रियों को कोरोना की वजह से अभी यात्रा के बाद क्वारंटीन किया जाता है। अलग-अलग राज्यों में इसके लेकर अलग-अलग नियम हैं। ट्रेनों की संख्या बढ़ाए जाने पर राज्यों की सहमती ज़रुरी है।
  • विशेष ट्रेनों की टिकट बुकिंग IRCTC.CO.IN पर जाकर की जा सकती है।
READ:  26-yr old swimming coach dies in Delhi: Assessing age-wise COVID-19 deaths

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं।