चिदंबरम के बाद अब गांधी परिवार की बारी?

Sharing is Important
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 100 करोड़ के टैक्स फ्रॉड का मामला
  • यंग इंडियन को दिया था 100 करोड़ का लोन
  • टैक्स ट्रिब्यूनल ने दिया झटका अब सीबीआई कर सकती है कार्यवाही

ग्राउंड रिपोर्ट | न्यूज़ डेस्क

इस साल जनवरी में आयकर विभाग ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को नोटिस भेजकर 100 करोड़ रु टैक्स चुकाने को कहा था। आयकर विभाग के मुताबिक गांधी परिवार ने जो टैक्स फाइल किया था उसमें 300 करोड़ रु की आय की घोषणा नहीं की थी। जिसपर 100 करोड़ रु के टैक्स देनदारी होती है। जो गांधी परिवार ने नहीं चुकाया।

आपको बता दें कि यंग इंडियन नाम की एक कंपनी के राहुल और सोनिया निदेशक हैं। इसमें दोनों की 36 फीसदी हिस्सेदारी है। इस कंपनी में मोतीलाल वोरा और ऑस्कर फर्नांडिस के पास 600 शेयर हैं। इस साल जब आयकर विभाग ने सोनिया राहुल से 100 करोड़ का टैक्स चुकाने को कहा था तब उन्होंने यंग इंडियन को नॉन प्रॉफिट संस्था बता कर टैक्स मांग को खारिज कर दिया था। इसपर टैक्स ट्राइब्यूनल ने गांधी परिवार को झटका देते हुए यंग इंडियन को नॉन प्रॉफिट संस्था मानने से इनकार कर दिया।

ट्रिब्यूनल का कहना है कि कंपनियों की मदद कर राहुल सोनिया ने नियमों का उल्लंघन किया है।

इसके बाद अब गांधी परिवार पर कार्यवाही के रास्ते खुल गए हैं। आपको बता दें UPA सरकार में वित्त और ग्रह मंत्री रहे पी चिदंबरम को भी INX मीडिया केस में गिरफ्तार किया गया है। वे फिलहाल सलाखों के पीछे हैं। इस फैसले के बाद कांग्रेस की चिंता और बढ़ जाएगी।