Home » HOME » ‘पाकिस्तान भारत को आतंकवाद एक्सपोर्ट करता है और भारत वैक्सीन’

‘पाकिस्तान भारत को आतंकवाद एक्सपोर्ट करता है और भारत वैक्सीन’

raghav chadhdha on vacciine export
Sharing is Important

आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार की वैक्सीनेशन नीति पर प्रश्न चिन्ह खड़ा किया है। ‘आप’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा कि मोदी सरकार बताए कि पहले देशवासियों की जान की सुरक्षा जरूरी है या पाकिस्तान को वैक्सीन का निर्यात करना जरूरी है। एक तरफ, हम कहते हैं कि पाकिस्तान भारत को आतंकवाद निर्यात करता है और दूसरी तरफ, भारत पाकिस्तान को वैक्सीन निर्यात कर रहा है। भारत परोक्ष और अपरोक्ष रूप से पाकिस्तान को 60 मिलियन वैक्सीन की डोज निर्यात करने जा रहा है।

चड्ढा ने कहा कि देश भर में वैक्सीन की किल्लत है, फिर भी केंद्र सरकार ने 645 लाख डोज 84 देशों को निर्यात कर दिया है। देश के 135 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगने के बाद मोदी सरकार वैक्सीन का निर्यात कर अंतर्राष्ट्रीय मंच पर वाह-वाही लूटे, हमें कोई ऐतराज नहीं है।

एक तरफ अमेरिका, ब्रिटेन, हंगरी आदि देश वैक्सीन जमा कर रहे हैं और दूसरी तरह, हमारी सरकार कह रही है कि वैक्सीन एकत्र करके क्या करना हैं? वैक्सीन की डोज समाप्त होने से पूणे में 109, मुम्बई में 26 और ओडिसा में 700 से अधिक वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो चुके हैं।

राघव चड्ढा ने कहीं ये बातें-

  • पाकिस्तान भारत को आतंकवादी एक्सपोर्ट करता है और भारत पाकिस्तान को वैक्सीन एक्सपोर्ट कर रहा है।
  • मोदी सरकार बताए, पहले देशवासियों की जान की सुरक्षा जरूरी है या पाकिस्तान को वैक्सीन एक्सपोर्ट करना जरूरी है।
  • भारत परोक्ष और अपरोक्ष रूप से पाकिस्तान को 60 मिलियन वैक्सीन की डोज एक्सपोर्ट करने जा रहा है।
  • आज देश भर में वैक्सीन की किल्लत है, फिर भी केंद्र सरकर ने वैक्सीन की 645 लाख डोज 84 देशों को निर्यात कर दिया है।
  • आंध्र प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड के पास केवल 2 दिन, ओडिशा के पास चार दिन और छत्तीसगढ़, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना के पास 5 दिन की वैक्सीन डोज बची है। आज से 5 दिन बाद भारत के लगभग सारे राज्यों में वैक्सीन की डोज समाप्त हो जाएगी।
  • देश के 135 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगने के बाद मोदी सरकार वैक्सीन निर्यात कर अंतर्राष्ट्रीय मंच पर वाह-वाही लूटे, हमें कोई ऐतराज नहीं।
  • अमेरिका ने अपनी पूरी आबादी को दो बार, ब्रिटेन ने तीन बार, कनाडा ने साढ़े तीन बार, हंगरी ने ढाई बार अपने देश की पूरी आबादी को वैक्सीन लगाने का इंतजाम कर लिया है, जबकि भारत के पास वैक्सीन की कमी है, फिर भी वह एक्सपोर्ट कर रहा।
  • वैक्सीन की डोज समाप्त होने से पूणे में 109, मुम्बई में 26 और ओडिसा में 700 से अधिक वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो चुके हैं।
  • अगर केंद्र सरकार सभी प्रतिबंधों को खत्म कर पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध कराती है, तो केजरीवाल सरकार दिल्ली की पूरी आबादी को मात्र 3 महीने में वैक्सीन लगा देगी।
  • आम आदमी पार्टी केंद्र सरकार की वैक्सीनेशन नीति पर प्रश्न चिन्ह खड़ा करती है और सरकार से जवाब मांगती है।
READ:  Pollution level in Delhi remains bad

Ground Report के साथ फेसबुकट्विटर और वॉट्सएप के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपनी राय हमें Greport2018@Gmail.Com पर मेल कर सकते हैं।

Scroll to Top
%d bloggers like this: